कांग्रेस हारी है, भारत नहीं

नई दिल्ली
लोकसभा और राज्यसभा में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर चर्चा की गई। लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर जवाब देने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार  को राज्यसभा में अपना जवाब देते हुए विपक्ष पर हमला किया। उन्होंने कांग्रेस के उस बयान पर जवाब दिया, जहां कांग्रेस पार्टी की ओर से नरेंद्र मोदी की जीत को देश का हार  जाना कहा था। पीएम मोदी ने कहा कि 55 साल सत्ता में रहने वाली पार्टी 17 राज्यों में खाता नहीं खोल पाई, तो क्या देश हार गया। राज्यसभा में जवाब देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा  कि आप तो जीत गए, लेकिन देश हार गया जैसे शब्द का इस्तेमाल करना देश की जनता का ही अपमान है। पीएम मोदी ने कहा कि क्या वायनाड में हिंदुस्तान हार गया, क्या  रायबरेली में हिंदुस्तान हार गया या फिर अमेठी में हिंदुस्तान हार गया।
उन्होंने आगे कहा कि ऐसा मानना कि कांग्रेस हारी तो देश हार गया, ये बिल्कुल गलत सोच है। क्या कांग्रेस का मतलब देश हो चला है। इसी दौरान उन्होंने कहा कि 17 साल में  आपका खाता नहीं खुला, तो क्या यहां पर हिंदुस्तान हार गया है। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ईवीएम के मुद्दे पर भी कांग्रेस को घेरा। लोकसभा चुनाव में हार के बाद  विपक्ष द्वारा उठाए गए ईवीएम के मुद्दे के अलावा उन्होंने बिहार के मुज फरपुर में चमकी बुखार के प्रकोप का मुद्दा उठाया। इसके कारण होने वाली मौतों को शर्मिंदगी बताते हुए  उन्होंने कहा कि यह हमारे सरकार की विफलता है। मैं बिहार सरकार के संपर्क में हूं।

गुलाम नबी जी कुछ दिन गुजारिए गुजरात में
प्रधानमंत्री ने एक के शेर के जरिए विपक्ष पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि 'धूल चेहरे पर थी आईना साफ करता रहा'। प्रधानमंत्री ने  आगे कहा कि अपनी गलतियों का श्रेय कांग्रेस को लेना चाहिए। एनआरसी हमारे लिए वोटबैंक का मुद्दा नहीं। एनआरसी लागू करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। सरदार पटेल की सबसे ऊंची  प्रतिमा हमने बनाई। गुलाम नबी आजाद पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि गुलाम नबी जी कुछ दिन गुजारिए गुजरात में। झारखंड में मॉब लिंचिंग पर पीएम ने जताया दुख  झारखंड में मॉब लिंचिंग पर प्रधानमंत्री ने दुख जताया। युवक की हत्या का दुख हम सबको है, मुझे भी है। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी, अपराध के लिए कानून और न्याय   व्यवस्था है। क्या झारखंड को लिंचिंग फैक्ट्री कहना शोभा देता है। लिंचिंग के लिए पूरे झारखंड को कठघरे में खड़ा करना ठीक नहीं। हिंसा की घटनाओं को तेरा-मेरा न किया जाए।  हर तरह की हिंसा पर एक तरह का रवैया होना चाहिए।

न्यू इंडिया के विरोध से पीएम हैरान
प्रधानमंत्री ने न्यू इंडिया के विरोध पर हैरानी व्यक्त करते हुए सवाल किया-क्या हमें टुकड़े-टुकड़े गैंग के समर्थन वाला ओल्ड इंडिया  चाहिए, जलथल-नभ में घोटाला करने वालों को  ओल्ड इंडिया चाहिए, क्या इंस्पेक्टर राज वाला ओल्ड इंडिया चाहिए। मैं न्यू इंडिया का विरोध देकर हैरान हूं, देश के लोगों को निराशा में न धकेलें। न्यू इंडिया का मकसद देश को  आगे ले जाना है।

हर मुद्दे पर विपक्ष दिखाता है नकारात्मकता
प्रधानमंत्री ने कहा कि जीएसटी का विरोध, ईवीएम का विरोध, डिजिटल पेमेंट का विरोध, हर चीज में विपक्ष नकारात्मकता दिखाता है। आप जब थे तो आधार महान हम आए तो  आधार बेकार। आधार के खिलाफ हम सुप्रीम कोर्ट जा रहे हैं। आने वाले 5 साल में सबक सीखने का सबको अवसर मिला है। मुद्दों से भागना ठीक नहीं।

हार का ठीकरा ईवीएम पर
प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर हमला किया और चुनाव में इवीएम के इस्तेमाल पर अपना पक्ष रखा। उन्होंने कहा कि ईवीएम के खिलाफ माहौल बनाया गया हम भी मानने लग गए  थे कि ईवीएम गड़बड़ है। ईवीएम को हमने नहीं कांग्रेस ने स्वीकृति दी। कांग्रेस हार स्वीकार भी नहीं कर पा रही है। वीवीपैट ने एक बार फिर ईवीएम की ताकत बढ़ा दी। प्रधानमंत्री  ने कहा कि क्या वायनाड, रायबरेली में लोकतंत्र हार गया। कांग्रेस हारी तो क्या देश हार गया। ऐसा कहना कि लोकतंत्र हार गया, लोकतंत्र का अपमान है।

एक देश एक चुनाव देश की मांग
प्रधानमंत्री ने कहा कि एक देश एक चुनाव देश की मांग है इसपर चर्चा से कांग्रेस बचती है। उन्होंने आगे कहा कि मोदी को श्रेय न मिल जाए इसके लिए योजनाओं का विरोध न करें।   प्रधानमंत्री ने जल संकट का मुद्दाउठाते हुए कहा कि देश के सभी क्षेत्रों का विकास हो देश को पानी की समस्या से बाहर लाना होगा, आने वाली पीढ़ियों को जल संकट से बचाना  होगा। मंगलवार को लोकसभा में अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा था। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस को आपातकाल और तीन तलाक पर घेरा,   साथ ही उन्होंने कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा 2जी और कोयला घोटाला पर किए गए सवाल का भी जवाब दिया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि हम कानून से चलने  वाले लोग हैं और किसी को जमानत मिली है तो वह इसका आनंद ले, लेकिन भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी, हमें गलत रास्ते पर जाने की जरूरत नहीं है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget