शिक्षक नियुक्ति में फर्जीवाड़ा

मुजफ्फरपुर
मुजफ्फरपुर में शिक्षक भर्ती घोटाले में कोर्ट के फैसले को नकारने और तथ्यहीन हलफनामा दाखिल कर हाई कोर्ट को भ्रमित करने का मामला उजागर हुआ है। कोर्ट ने  जिन शिक्षकों को हटा देने का आदेश वर्ष 2013 में दिया था, वे उच्चाधिकारियों की कृपा से मार्च 2019 तक वेतन लेने में कामयाब रहे। मामला मड़वन प्रखंड का है। अब कोर्ट ने  मड़वन के पूर्व बीडीओ अमरेंद्र पंडित और वर्तमान बीईओ पर तीस-तीस हजार रुपए का जुर्माना लगा दिया है। बताया जा रहा है कि मड़वन प्रखंड में वर्ष 2008 की टीचर वैकेंसी पर  काफी विवाद के बाद साल 2012 में 13 शिक्षकों की नियुक्ति हुई थी, लेकिन नियुक्ति से वंचित आवेदक अपीलीय प्राधिकार में चले गए। 26 अप्रैल 2013 को इन शिक्षकों की  निुयक्ति को नियम विरुद्ध करार देकर रद्द कर दिया गया था। प्राधिकार ने अपने आदेश में कहा कि सभी शिक्षकों का नियोजन रद्द करते हुए मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में फिर से  नियुक्ति की जाए। लेकिन, नियोजन इकाई के तत्कालीन सचिव बीडीओ अमरेंद्र पंडित और प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने इस आदेश पर अमल नहीं किया। विरोधी पक्ष हाई कोर्ट गए,  तो वहां भी निचली अदालत के फैसले को बरकरार रखा गया। कोर्ट में दाखिल किया गलत हलफनामा हालांकि, बीडीओ ने तब भी कुछ नहीं किया। जब मामला एमजेसी में गया, तो  आनन-फानन में इन शिक्षकों को हटा दिया गया। बाद में फिर से बगैर जरूरी प्रक्रिया अपनाए उन्हीं लोगों को फिर से काम पर लौटने का आदेश जारी हो गया।
दरअसल, कोर्ट में गलत एफिडेविट दाखिल कर दिया गया था, इसलिए सभी आरोपी शिक्षक बने रहे। लेकिन, नए बीडीओ अरशद रजा को जब पूरे मामले की जानकारी लगी तो उन्होंने कार्रवाई शुरू की। बीईओ भी संलिप्त! जानकारी के अनुसार, इस मामले में मड़वन के प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी शारदा कुमारी की भी संलिप्तता बताई जा रही है। उन्होंने भी कथित तौर पर साजिश में भाग लिया और आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए चिठ्ठीयां निकाली थीं। बहरहाल, अब जब वर्तमान बीडीओ नियोजन से संबंधित दस्तावेजों की तलाश कर रहे हैं। हालांकि यह भी जानकारी सामने आ रही है कि तमाम कागजातों को गायब कर दिया गया है और बीईओ छुट्टी पर चली गई हैं।
पदाधिकारियों की मनमानी के खिलाफ अब अपीलीय प्राधिकार ने काफी सख्ती दिखाई है। तत्कालीन बीडीओ अमरेंद्र पंडित और वर्तमान बीईओ पर तीस-तीस हजार का जुर्मानाा लगााया गया है जो उनके वेतन से वसूला जाएगा। 
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget