मनपा मुख्यालय में पानी के लिए अफरा-तफरी

मुंबई
पानी की समस्या को लेकर कोलाबा परिसर के लोग पहले से ही परेशान हैं। मंत्रालय सहित अन्य इलाकों के बाद अब मनपा मुख्यालय खुद पानी की किल्लत की मार झेल रहा है।  पानी की किल्लत इस कदर बढ़ गई है कि मनपा को बीते चार महीने से टैंकर का सहारा लेना पड़ रहा है। इसी बीच पिछले कुछ दिनों से पानी की समस्या और जटिल हो गई है,  जिसका असर मनपा मुख्यालय के विभीन्न कार्यालयों में दिखाई देने लगा है। कार्यालयों के शौचालय तक में पानी नहीं होने से कर्मचारियों को परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं। बता दें  कि पिछले दो दिन से भातसा तालाब जिन दरवाजों से पानी छोड़ा जाता है, उनमें तकनीकी खराबी आ गई है। इसके चलते समुचित तरीके से जलापुर्ति नहीं हो पा रही है। इसका   असर मुंबई के अधिकांश इलाकों में देखने को मिल रहा है। मनपा अधिकारियों के इंकार के बावजूद लोगों को पानी की समस्या से जूझना पड़ रहा है। दक्षिण मुंबई के वर्ली जैसे  इलाकों सहित कई क्षेत्रों में पानी की समस्या पैदा हो गई है। इन क्षेत्रों में कुछ घंटे ही धीमी गति से पानी की आपूर्ति की जा रही है। इसी तरह पवई जैसे इलाकों में भी पानी की   समस्या पैदा हो गई है। पानी की समस्या से अब मनपा मुख्यालय भी अछूता नहीं है। मनपा मुख्यालय पिछले चार माहीनों से पानी की समस्या से जूझ रहा है। इसे दूर करने के  लिए मनपा में रोजाना दो से तीन टैंकरों से जलापूर्ति की जा रही थी, लेकिन पिछले दो दिनों से पानी की ऐसी समस्या पैदा हो गई है कि मनपा मुख्यालय में स्थित अधिकारियों के   कार्यालयों के शौचालय तक में पानी नहीं रहता है, जिससे कर्मचारियों को भारी परेशानी झेलनी पड़ती है। गुरुवार को दोपहर बाद स्थिति ऐसी हो गई कि पानी के लिए कर्मचारी एक- दूसरे के विभाग में भाग-दौड़ करते दिखे।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget