बड़े कॉलेजों की प्रवेश प्रक्रिया की होगी जांच : शेलार

मुंबई
राज्य के शिक्षा मंत्री आशीष शेलार ने कहा कि मुंबई विभाग के अंतर्गत आने वाली अल्पसंख्यक दर्जा प्राप्त विद्यालयोंमें अल्पसंख्यक समाज के लिए 50 फीसदी जगह आरक्षित की गई है। जिसमें प्रवेश के दौरान किसी तरह की अनियमितता अगर बरती गई होगी तो उसकी जानकारी ली जाएगी। साथ ही आवश्यकता पड़ी तो जांच की जाएगी। विधानपरिषद में  यह जानकारी शेलार ने दी। मंगलवार को विधानपरिषद में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के दौरान सदन में विरोधी पक्ष नेता धनंजय मुंडे ने यह मुद्द्दा पेश किया। जिसमें मुंडे ने कहा कि  मुंबई की जयहिंद, केसी और एचआर महाविद्यालय में अल्पसंख्यक विद्यार्थियों के लिए आरक्षित 50 फीसदी सीटों में भारी अनियमितता बरती गई है। मुंडे ने आरोप लगाया कि  आरक्षित सीटों को अल्पसंख्यक विद्यार्थियों को एडमिशन देने की बजाय आम विद्यार्थियों से लाखों रुपए लेकर प्रवेश दिया जा रहा है। इसके जबाब में शेलार ने कहा कि वर्ष 2009- 10 में मुंबई महानगर क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली विद्यालयों में 11वीं में प्रवेश की प्रक्रिया को ऑनलाइन पद्धति से शुरू है। इसमें अल्पसंख्यक प्राप्त विद्यालयों में 50 फीसदी  अल्पसंख्यक समाज के विद्यार्थियों को प्रवेश देने का अधिकार संस्था या उस संस्था संबंधित महाविद्यालय को है। अल्पसंख्यक समाज के विद्यार्थियों को महाविद्यालय में प्रवेश  दिया जाएगा। शिक्षा मंत्री आशीष शेलार ने कहा कि अल्पसंख्यक समाज के लिए आरक्षित सीट विद्यार्थियों के प्रवेश के बाद ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से उसे सरेंडर करने का  प्रावधान है। इसके अनुसार मुंबई की जयहिंद, केसी और एचआर महाविद्यालय में विद्यार्थियों ने जो कोटे की सीटों को सरेंडर किया था। उसी सीटों को गुणवत्ता अनुसार विद्यालय  ने ऑनलाइन प्रक्रिया से विद्यार्थियों को प्रवेश दिया गया है। शेलार ने सदन को बताया कि वर्ष 2018 -19 में 11वीं के विद्यार्थियों के प्रवेश प्रक्रिया के वक्त अल्पसंख्यक समाज के  विद्यार्थियों के लिए आरक्षित जगह को ऑनलाइन प्रक्रिया से प्रवेश देने को लेकर मुंबई उच्च न्यायालय की नागपुर खंडपीठ में याचिका दायर की गई थी। जिसकी सुनवाई के दौरान  न्यायालय ने अल्पसंख्यक कनिष्ठ महाविद्यालय में प्रत्यर्पित अल्पसंख्यक कोटे के सीटों नियमित तरीके से पूरा राउंड होने के बाद। प्रत्यर्पित सीटों को ऑनलाइन प्रक्रिया तरीके से  प्रवेश देने का आदेश दिया था। जिसके आदेशानुसार प्रवेश की कार्यवाही की गई है। सदन में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव में राकांपा के सदस्य विक्रम काले, भाजपा सदस्य निरंजन डावखरे ने
हिस्सा लिया।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget