लोकतंत्र हमारे संस्कारों में है : पीएम मोदी

कोलंबो
श्रीलंका के एक दिन के दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कोलंबो में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया। इस दौरान मोदी ने दुनिया में भारत की छवि  बदलने का श्रेय दुनिया के अलग-अलग कोने में रहने वाले भारतीयों को दिया। उन्होंने कहा कि अब भारत को देखने का दुनिया का नजरिया बदला है। लोकसभा चुनाव का जिक्र करते  हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत में लोकतंत्र लोगों के संस्कारों में है। प्रधानमंत्री मोदी ने प्रवासी भारतीयों की तारीफ करते हुए कहा कि आप सब सबके अपने आचार से, विचार  से, व्यवहार से भारत की जो उत्तम छवि है, उसे यहां स्थापित करने में आपकी बहुत बड़ी भूमिका है। भारत का गौरव बढ़ाने में विश्व में फैले हुए भारतीयों ने बड़ी भूमिका निभाई  है। दुनिया के किसी भी देश में भारतीयों के प्रति शिकायत होगी, ऐसी कोई घटना हमारे सामने अब तक नहीं आई है। पांच साल में मैंने कई देशों के दौरे किए और हर देश में मुझसे   भारतीयों के व्यवहार और संस्कार का गौरवपूर्वक उल्लेख किया गया। भारत को देखने का दुनिया का नजरिया बदला है। पिछले महीने संपन्न हुए लोकसभा चुनाव का जिक्र करते हुए   प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जनता ने बहुत ही स्पष्ट जनादेश दिया है जो उसकी परिपक्वता को दिखाता है। पीएम ने कहा कि देश की जनता ने एक बहुत ही फ्लियर कट मैंडेट  दिया है। यह अपने आप में भारत के मतदाता की परिपक्व सूझबूझ और समझदारी का प्रमाण है। भारत के लोकतंत्र का जितना जयगान हम कर सकते हैं, वह कम ही है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आजादी के बाद सबसे ज्यादा मतदान इस चुनाव में हुआ है। मई महीने में 40-45 डिग्री सेल्सियस तापमान में इतनी वोटिंग हुई। आजादी के बाद पहली  बार महिलाओं की वोटिंग सबसे ज्यादा हुई है। सबसे ज्यादा महिलाएं भी चुनकर आईं हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र भारत के संस्कारों में बसा है। उन्होंने कहा कि दुनिया में  लोकतंत्र एक व्यवस्था के तहत चलता है, लेकिन भारत में यह संस्कारों से चलता है। उन्होंने कहा कि हमें देश को और आगे बढ़ाना है। नए क्षेत्रों में भी विकास करना है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget