आरपीआई के वाघे ने मारी बाजी

उल्हासनगर
उल्हासनगर मनपा केपैनल नंबर 1 के उपचुनाव के लिए रविवार को मतदान हुए। सोमवार को मनपा मुख्यालय में हुई मतगणना में मनपा सत्तारूढ़ दल भाजपा, टीओके और साईं पार्टी गठबंधन को जबर्दस्त धक्का लगा है। इस उपचुनाव में आरपीआई के मंगल वाघे ने जीत दर्ज शहर की राजनीति में हड़कंप मचा दिया है। महायुति उम्मीदवार की हार से टीओके प्रमुख ओमी कालानी खेमे में उदासी का माहौल है योंकि महायुति की उम्मीदवार वनिता भोईर टीओके कोटे से थीं। गौरतलब है कि पैनल नंबर-1 के लिए रविवार को उपचुनाव हुआ। इस उप चुनाव में भाजपा, शिवसेना, टीओके और साई पार्टी की साझा उम्मीदवार वनिता भोईर, कांग्रेस के चरणदास मेश्राम और आरपीआई (आठवले) के मंगल बालकृष्ण वाघे के बीच त्रिकोणीय मुकाबला था। इसमें आठवले गुट के उम्मीदवार मंगल वाघे को उपचुनाव में कुल 2637 वोट मिले, वहीं टीओके - भाजपा की वनिता भोईर को 2324 मत प्राप्त हुए। कांग्रेस के नितिन मेश्राम को मात्र 173 वोट से संतोष करना पड़ा। इसमें आरपीआई के मंगल वाघे ने  303 वोट के अंतर से विजय हासिल की। मनपा के दो पैनल के लिए उपचुनाव थे, लेकिन इनमें टीओके से नाता तोड़ भाजपा में शामिल होकर राजू जगयासी ने पैनल-5 से नामांकन भरा था, जो भाजपा के जिलाध्यक्ष कुमार आयलानी की पत्नी मीना आयलानी का होम वार्ड था। इसमें जग्यासी ने निर्विरोध जीत हासिल की। उपचुनाव में टीओके प्रत्यासी की हार के संदर्भ में जब टीओके के अध्यक्ष ओमी कालानी से बात की तो उन्होंने कहा कि यह जनता का आदेश था, जिसे हम स्वीकारते हैं तथा इससे सबक लेते हुए आगे और तेज गति से मनपा क्षेत्र के विकास का काम करेंगे। वहीं टीओके के मुख्य मित्रपक्ष भाजपा के जिलाध्यक्ष कुमार आयलानी ने कहा कि चुनाव प्रचार की पूरी कमान टीओके ने अपने पास रखी थी, जिसमें पूरी तरह समन्वय का अभाव रहा तथा टीओके द्वारा बाहरी उम्मीदवार की सिफारिश करना और उसी को पार्टी का टिकट दिलवाना नुकसान साबित हुआ है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget