पीएम का भाजपा सांसदों को निर्देश अपने लोकसभा क्षेत्र में 150 किमी करें पदयात्रा

नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के सांसदों से दो अक्टूबर से 31 अक्टूबर के बीच उनके निर्वाचन क्षेत्रों में पदयात्रा की  शुरुआत करने का निर्देश दिया है। संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। भारतीय जनता पार्टी महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर देश के  प्रत्येक संसदीय क्षेत्र में दो अक्टूबर से लेकर 31 अक्टूबर तक 150 किलोमीटर की पदयात्राएं आयोजित करेगी, जिनमें उसके सांसद भाग लेंगे और वे वृक्षारोपण करने के साथ ही  आजादी की लड़ाई में राष्ट्रपिता के योगदान की जानकारी देंगे। भाजपा की संसदीय दल की मंगलवार सुबह संसद भवन परिसर में हुई बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसदों से  आह्वान किया कि वे बापू को श्रद्धांजलि देने वाले इस कार्यक्रम में पूरे मनोयोग से भाग लें और इसकी सफलता सुनिश्चित करें। संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने बैठक के बाद संवादददाताओं को बताया कि प्रधानमंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी की 150वीं जयंती को बड़े स्तर पर मनाई जाएगी। देश में एक बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने  कहा कि प्रत्येक संसदीय क्षेत्र में गांधी जयंती यानी दो अक्टूबर से सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती 31 अक्टूबर के बीच 150 किलोमीटर की पदयात्रा होगी। हर दिन संसदीय क्षेत्र  में 15 से 20 समूह बनाये जाएंगे और वे हर दिन लगभग 15 किलोमीटर तक पदयात्रा करेंगे और प्रत्येक बूथ को कवर किया जाएगा। जोशी ने कहा कि पदयात्रा में पार्टी के स्थानीय पदाधिकारी, विधायक, पार्षद आदि भाग लेंगे और सांसद कम से कम एक दिन अवश्य शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी में इस वृहद कार्यक्रम के क्रियान्वयन के लिए एक बड़ी  समिति भी बनेगी। चूंकि देश की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ भी आने वाली है। इसलिए इस पदयात्रा के दौरान आजादी की लड़ाई, महात्मा गांधी एवं अन्य स्वतंत्रता सेनानियों के  योगदान के बारे में जानकारी दी जाएगी। इस दौरान प्रत्येक बूथ पर कम से कम पांच पेड़ लगाए जाएंगे। एक सवाल के जवाब में जोशी ने कहा कि संसद का वर्तमान सत्र सुचारू रूप  से चल रहा है और आधार सहित कई महत्वपूर्ण विधेयक बिना किसी व्यवधान के पारित हो गए हैं। इसके लिए वह सरकार की ओर से विपक्ष सहित सभी पार्टियों के प्रति आभार  व्यब्त करते हैं। बैठक में मौजूद कुछ सांसदों के मुताबिक मोदी ने कहा कि ये यात्राएं 'अराजनीतिक' होंगी, जिनमें विशेष ध्यान गांवों को आत्मनिर्भर बनाने पर दिया जाएगा।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget