बड़े शहरों में घरों की बिक्री बढी

नई दिल्ली
देश के आठ बड़े शहरों में इस साल जनवरी से जून के बीच लोगों ने बीते साल इस अवधि की तुलना में ज्यादा घरों की बिक्री हुई। प्रॉपर्टी कंसल्टेंट नाइट फ्रैंक की रिपोर्ट के मुताबिक  साल के शुरुआती छह महीनों में 4 फीसदी ज्यादा हाउसिंग सेल्स हुई हैं, जिसके चलते कुल बिक्री हुए घरों का आंकड़ा 1.29 लाख हो गया है। ऐसा अफोर्डेबल घरों की मांग बढ़ने के  कारण हुआ है। रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि नए घरों की सप्लाई का आंकड़ा इस दौरान 21 फीसदी बढ़ा है।

इन आठ शहरों पर आधारित है रिपोर्ट
नाइट फ्रैंक की अर्द्धवार्षिक रिपोर्ट 'इंडिया रीयल इस्टेट' देश के आठ शहरों- दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, बैंग्लोर, हैदराबाद, पुणे और अहमदाबाद में रेजिडेंशियल और ऑफिस प्रॉपर्टी की डिमांड, सप्लाई और कीमतों पर आधारित है। इसके मुताबिक पिछले साल की पहली छमाही में 1,24,288 घरों की बिक्री हुई थी, जबकि इस साल जनवरी से जून  के बीच 1,29,285 घर बेचे गए। पिछले साल इस अवधि में 91,739 नए घर लांच किए गए थे, जबकि इस साल इस दौरान 1,11,175 घर लांच किए गए। डेवलपर्स के पास पड़े  बिना बिके घरों का आंकड़ा 9 फीसदी कम होकर 4,50,263 यूनिट रह गया।

लगातार तीसरी तिमाही बढ़ी घर की बिक्री
नाइट फ्रैंक इंडिया के ए€जीक्यूटिव डायरेक्टर (नॉर्थ) मुदासिर जैदी के मुताबिक, इस छिमाही में घरों की बिक्री में इजाफा होने के चलते लगातार तीसरी तिमाही में घर बिक्री के रिकॉर्ड  में सुधार हुआ है। नाइट फ्रैंक इंडिया के सीएमडी शिशिर बैजल ने कहा कि सरकार के लगातार प्रयासों और दिए गए इंसेंटिव के कारण अफोर्डेबेल हाउसिंग की डिमांड में इजाफा हुआ  है, जिससे रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी की बिक्री को बूस्ट मिला है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget