मोदी सरकार का 12 करोड़ किसानों को तोहफा!

नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 अगस्त को किसान पेंशन योजना के शुरुआत की घोषणा कर सकते हैं। कृषि सचिव ने राज्यों को चिठ्ठी लिखकर स्कीम लागू करने के लिए मैकेनिज्म तैयार  करने का निर्देश दिया है। पेंशन स्कीम का फायदा करीब 12-13 करोड़ किसानों को मिलेगा। सरकार पहले चरण में 5 करोड़ किसानों तक पहुंचेगी। 18 से 40 वर्ष तक की आयु के  किसान इस योजना से जुड़ सकेंगे। उन्हें 60 वर्ष पूरा करने के पश्चात 3000 रुपए मासिक पेंशन मिलेगी। अगले हफ्ते से इसके लिए रजिस्ट्रेशन की शुरुआत होगी। अगर लाभ पाने  वाले व्यक्ति की मौत हो गई, तो उसकी पत्नी को 50 फीसदी रकम मिलती रहेगी। इस योजना पर 10 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे। अगले हफ्ते से इसके लिए रजिस्ट्रेशन की शुरुआत होगी।

क्या है योजना
प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के तहत अब 60 साल की उम्र में 3000 रुपए की पेंशन मिलेगी। प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के अंतर्गत 12 करोड़ लोग आएंगे। पहले चरण में  5 करोड़ किसान आएंगे। इसमें 18 से 40 वर्ष के किसान शामिल होंगे। 60 साल बाद 3 हज़ार किसान को पेंशन दिया जाएगा। इसमें 18 साल के किसान को 100 रुपए मासिक देना  होगा। इतनी ही राशी सरकार को भी देगी। अगर किसान हर महीने 100 रुपए जमा करता है तो सरकार उसमें हर महीने 100 रुपए जमा करेगी। इस तरह 60 साल की उम्र के बाद  उसे 3000 तक की पेंशन मिलेगी। किसान पेंशन योजना पर करीब 10 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे।
बताया जाता है कि भाजपा ने किसानों को पेंशन देने का वादा करने का आइडिया अपने ही एक राज्य हरियाणा से लिया है। भाजपा शासित राज्य हरियाणा में वहां के भाजपा अध्यक्ष  सुभाष बराला के नेतृत्व में एक कमेटी बनाई गई थी। जिसने काफी अध्ययन करने के बाद किसानों को पेंशन देने का सुझाव दिया था। खट्टर सरकार ने बराला के सुझाव को मानते  हुए फरवरी में पेश हुए अपने बजट में इसकी घोषणा कर दी। इसके लिए 1500 करोड़ रुपए आवंटित किए। इसके तहत 5 एकड़ तक की भूमि वाले किसान परिवारों को पेंशन दी  जानी है। इसके लिए 15 हजार रुपए से कम की मासिक आय सीमा तय की जा रही है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget