श्रीनगर में भीड़ इकठ्ठा होने पर फिर लगा प्रतिबंध

नई दिल्ली/श्रीनगर
जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ज्यादातर इलाके में धारा 144 लागू है। शुक्रवार को जुमे की नमाज से पहले घाटी और पूरे कश्मीर में धारा 144 में ढील दी गई  थी, लेकिन एक बार फिर श्रीनगर में फिर से एक जगह भीड़ इकठ्ठा होने पर रोक लगा दी गई है। सूत्रों ने बताया कि पुलिस इलाके में घुम-घुमकर लोगों को घर में रहने की हिदायत  दे रही है। जो दुकानें खुली हैं उन दुकानदारों से भी पुलिसवाले दुकान बंद करने की अपील कर रहे हैं। बता दें कि जम्मू कश्मीर में स्थिति शांतिपूर्ण है और राज्य में कहीं से कोई  हिंसा नहीं हुई है। राज्य के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा कि 'मामूली पथराव के बाद कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है। पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा कि पथराव  की मामूली घटना को छोड़कर किसी तरह की अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं है, जिससे तत्काल निपट लिया गया था और वहीं रोक दिया गया था। वहीं राज्य के मुख्य सचिव और  डीजीपी ने लोगों से मनगढंत खबरों पर यकीन नहीं करने को कहा है। डीजीपी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान के बाद राज्य की स्थिति के संबंध में यह स्पष्टीकरण दिया। राहुल  गांधी ने कहा था कि स्थिति बहुत खराब है। राहुल गांधी के बयान के कुछ ही मिनट बाद श्रीनगर पुलिस ने ट्वीट किया कि स्थिति शांतिपूर्ण है। ट्वीट में कहा गया कि घाटी में  स्थिति रविवार को सामान्य थी। वहीं, दूसरी तरफ जम्मू कश्मीर पुलिस के आईजीपी ने एक वीडियो बयान जारी करके बताया कि घाटी में पिछले सात दिनों से कोई ऐसी घटना नहीं  हुई है और वो अंतर्राष्ट्रीय मीडिया से अपील करते हैं कि जिम्मेदारी से खबरों को दिखाएं। पुलिस ने जम्मू कश्मीर में हिंसा की खबरों को लेकर अंतर्राष्ट्रीय मीडिया की रिपोर्ट्स को  बेबुनियाद बताया। घाटी में एक समस्या फोन को लेकर भी है। लोग दूर-दूर से फोन करने बूथ तक पहुंच रहे हैं, लेकिन उनका नंबर नहीं आ पा रहा है। एक फोन करने के लिए  लोगों को तीन-तीन दिन का इंतज़ार करना पड़ रहा है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget