आपराधिक इरादे से लगाए ईवीएम पर छेड़छाड़ के आरोप : सुनील अरोड़ा

नई दिल्ली
मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन से छेड़छाड़ के आरोप 'बहुत अनुचित' हैं और ये एक 'आपराधिक इरादे' से लगाए जाते हैं। अरोड़ा ने  आईआईएम-कलकत्ता के वार्षिक बिजनेस कान्क्लेव में कहा कि मशीनों में यदा कदा खराबी आ सकती है, जैसा अन्य उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल होने वाले उपकरणों में आती है,   लेकिन इससे छेड़छाड़ नहीं की जा सकती।
उन्होंने कहा कि खराबी, छेड़छाड़ से बहुत अलग है। इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से छेड़छाड़ नहीं की जा सकती। यदि आप ऐसा कहते हैं तो आपका कोई आपराधिक इरादा है  जो हमें खराब लगता है। अरोड़ा ने कहा कि दो 'अत्यंत प्रतिष्ठित' सार्वजनिक कंपनियों ने ईवीएम डिजाइन की है। उन्होंने कहा कि ईवीएम को एक सुरक्षित माहौल में बनाया गया था  और प्रतिष्ठित संस्थानों के एमेरिटस प्रोफेसरों ने पूरी प्रक्रिया की निगरानी की।
अरोड़ा, पश्चिम बंगाल नेशनल यूनिवर्सिटी आफ जूरिडिकल साइंसेस और आईआईएम (कलकत्ता) द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए शहर में थे। उन्होंने इस ओर  इशारा करते हुए कि तृणमूल कांग्रेस और कांग्रेस सहित विपक्षी दलों ने लोकसभा चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद ही ईवीएम से छेड़छाड़ के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि यह  बहुत अनुचित है। जब आप हारते हैं तो मशीन को निशाना क्यों बनाना?

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget