द्रविड को नोटिस : गांगुली ने लगाई भगवान से गुहार

नई दिल्ली
बीसीसीआई के एथिम्स ऑफिसर ने दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ को 'हितों के टकराव' मामले पर नोटिस जारी किया, तो इस पर नाराजगी दिखाते हुए पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली  द्रविड़ के समर्थन में आ गए। गांगुली ने बोर्ड के इस नोटिस पर अपनी राय रखते हुए ट्वीट किया कि भगवान भारतीय क्रिकेट की मदद करो। गांगुली के इस ट्वीट पर उनकी कप्तानी में खेल चुके ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने भी अपना समर्थन दिया। बीसीसीआई के एथिम्स ऑफिसर, जस्टिस (रिटायर्ड) डीके जैन ने हितों के टकराव के मामले पर, मध्य  प्रदेश क्रिकेट असोसिएशन के सदस्य संजय गुप्ता के द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद द्रविड़ को नोटिस दिया था। भारतीय क्रिकेट के लिए सालों तक अपने बल्ले से सेवा करने वाले  पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ को नोटिस की जब खबर आई, तो सौरभ गांगुली ने इसके विरोध में ट्वीट किया। पूर्व भारतीय कप्तान ने अपने ट्वीट में लिखा कि भारतीय क्रिकेट में यह   नया फैशन है... हितों का टकराव... खबरों में रहने के लिए शानदार तरीका है... भगवान... भारतीय क्रिकेट की मदद करो... द्रविड़ को हितों के टकराव पर बीसीसीआई के एथि स  ऑफिसर से नोटिस मिला है।
इसके बाद दादा का यह ट्वीट उनकी टीम के सदस्य रह चुके ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने रीट्वीट करते हुए लिखा कि सचमुच?? मैं नहीं जानता यह कहां जा रहा है... आपको भारतीय क्रिकेट के लिए उनसे बेहतर व्यक्ति नहीं मिल सकता। इन लेजंड्स को नोटिस देना उनकी बेइज्जती करने के जैसा है... क्रिकेट को उसकी बेहतरी के लिए उनकी सेवाओं की   जरूरत है... हां भगवान भारतीय क्रिकेट को बचा लो। बता दें कि द्रविड़ को इस नोटिस का जवाब देने के लिए दो सप्ताह का समय मिला है।
द्रविड़ पर आरोप लगाने वाले गुप्ता के अनुसार, राहुल द्रविड़ वर्तमान में नेशनल क्रिकेट अकेडमी के निदेशक भी हैं और वह इंडिया सीमेंट्स गु्रप के उपाध्यक्ष भी हैं। इंडिया सीमेंट्स   गु्रप आईपीएल फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स की मालिक भी है। इससे पहले संजय गुप्ता इसी प्रकार के आरोप पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण और सचिन तेंडुलकर पर भी लगा चुके  हैं। ये दोनों पूर्व खिलाड़ी क्रिकेट अडवाइजरी कमिटी के भी सदस्य थे और आईपीएल फ्रेंचाइजी के मेंटॉर भी थे।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget