लेक्चरर और प्रोफेसरों की बहाली के विज्ञापन रद्द

पटना
बिहार के सरकारी पॉलिटे€िनक और इंजीनियरिंग कॉलेजों में संविदा पर व्याख्याता व सहायक प्रोफेसर के 1568 पदों पर होने वाली बहाली के विज्ञापन सहित नियुक्ति के लिए बनाए गए नियम को पटना हाईकोर्ट ने निरस्त कर दिया है। कोर्ट ने बहाली के लिए नए सिरे से कानून के तहत कार्रवाई करने का आदेश राज्य सरकार को दिया है।
सात मार्च को निकला था विज्ञापन
न्यायमूर्ति ज्योति शरण और न्यायमूर्ति पार्थसारथी की पीठ ने राम मनोहर पांडेय एवं अन्य की अर्जी पर सुनवाई के बाद यह आदेश दिया। आवेदकों के वकील नवीन प्रसाद सिंह ने कोर्ट को  बताया कि पॉलिटे€िनक में व्याख्याता की नियुक्ति के लिए बीते सात मार्च को 583 पदों तथा इंजीनियरिंग में असिस्टेंट प्रोफेसर के 985 पदों के लिए आठ मार्च को विज्ञापन प्रकाशित हुआ था।
गेट को वेटेज देने पर फैसला
कोर्ट ने कहा कि संविदा पर नियुक्ति को सरकार ने जो नियम बनाए वे कानून के तहत नहीं हैं। बहाली में गेट पास छात्रों को तरजीह दी गई है, जबकि बहाली कानून में सभी को एक समान  रखा गया है। गेट का वेटेज देना गलत है, क्योंकि गेट कोई शैक्षणिक योग्यता नहीं है।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget