अपने घर में ही बुरी तरह घिरे इमरान खान


इस्लामाबाद
जम्मू-कश्मीर से विशेष दर्जा हाटने के भारत सरकार के फैसले से बौखलाए पाक पीएम इमरान खान कभी संयुक्तराष्ट्र तो कभी चीन का रुख कर रहे हैं, लेकिन हकीकत तो यह है  कि वह अपने देश को ही एकजुट करने में नाकाम रहे हैं और राजनीतिक पार्टियां आपस में ही लड़-भिड़ रही हैं। नेशनल असेंबली में सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच तीखी नोंक-झोंक  हुई जिससे यह जाहिर होता है कि पाकिस्तान भारत के घरेलू मामले को अंतर्राष्ट्रीय मंच पर उठाने की भले ही कोशिश करे लेकिन खुद के घरेलू मामले उससे सुलझ नहीं रहे। विपक्षी  पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के अध्यक्ष और विपक्षी नेता शाहबाज शरीफ ने नैशनल असेंबली के संयुक्त सत्र के दौरान कश्मीर मसले पर इमरान पर जोरदार  हमला बोला। सदन में बहस बढ़ गई और सत्तारूढ़ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ और पीएमएल-एन के सांसदों ने अपने- अपने कार्यकाल में एक-दूसरे पर 'भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र  मोदी को खुश करने की कोशिश' का आरोप लगाया। शाहबाज ने कहा कि इसके अलावा पाकिस्तान सरकार और देश के राष्ट्रीय जवाबदेही Žयूरो (भ्रष्टाचार विरोधी निकाय) के बीच एक  सांठगांठ थी। राजनीतिक दबाव में इमरान ने नैशनल सिक्यॉरिटी कमिटी की बैठक बुलाई और एक के बाद कई कदम उठाए, जिसमें भारत के साथ कूटनीतिक संबंध को डाउनग्रेड  करना, ट्रेड रिलेशन संस्पेंड करना, समझौता व थार एक्सप्रेस को रोकना, बस सर्विस सस्पेंड करना और भारतीय फिल्मों के प्रसारण पर रोक लगाना शामिल है। उल्लेखनीय है कि  भारत सरकार ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा दिए जाने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटा दिया है और राज्य को यूनियन टेरिटरी घोषित कर दिया  है, जिसे लेकर पाकिस्तान में इमरान खान सरकार को व्यापक विरोध का सामना करना पड़ रहा है। कश्मीर के बहाने शाहबाज ने इमरान को घरेलू मामले पर भी घेरा। शाहबाज ने  कहा कि कश्मीर मुद्दे पर संसद में विपक्ष द्वारा तैयार किए गए सद्भाव और एकता के माहौल को सरकार ने अपने राजनीतिक अजेंडे को पूरा करने के लिए खराब कर दिया। जम्मू- कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म किए जाने के मोदी के फैसले के बाद यहां विपक्ष ने सद्भाव और एकता का माहौल बनाया, लेकिन सरकार ने मरियम नवाज को गिरफ्तार कर उस  एकता को तोड़ दिया। उल्लेखनीय है कि भ्रष्टाचार के आरोप में पूर्व पीएम नवाज शरीफ की बेटी और पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज और भतीजे यूसुफ अब्बास को  गिरफ्तार किया गया है। शहबाज शरीफ ने दावा किया कि मरियम सहित विपक्षी दलों के शीर्ष नेताओं में पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी के अलावा ख्वाजा साद रफीक, राणा  सनाउल्ला, हमजा शहबाज, मिफ्ता इस्माइल और पीपीपी नेता आसिफ अली जरदारी शामिल हैं। इन्हें सरकार ने कश्मीर मुद्दे से जनता का ध्यान हटाने के लिए गिरफ्तार किया है।  उन्होंने आगे कहा कि हम इस नीति से डरने वाले नहीं हैं और हम कभी सरकार के आगे घुटने नहीं टेकेंगे। वहीं शाहबाज पर निशाना साधते हुए संसदीय कार्यमंत्री अली मोहम्मद  खान ने कहा कि नवाज शरीफ की पोती की शादी में शामिल होने के लिए मोदी पाकिस्तान आए थे। इमरान खान ने मोदी को कभी नहीं बुलाया, आपने उन्हें यहां बुलाया।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget