नंबर चार के लिए अय्यर बेहतर विकल्प : गावसकर

नई दिल्ली
पूर्व कप्तान सुनील गावसकर का मानना है कि ऋषभ पंत की तुलना में श्रेयस अय्यर एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैचों में चौथे स्थान के लिए बेहतर विकल्प हैं और भारतीय मध्यक्रम  में उन्हें स्थाई जगह मिलनी चाहिए। एक साल बाद भारतीय टीम में जगह बनाने वाले अय्यर ने रविवार को पोर्ट ऑफ स्पेन में वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे वनडे में 68 गेंद में 71  रन की पारी खेली और भारत की 59 रन की जीत में अहम भूमिका निभाई। अय्यर भारतीय टीम में चौथे स्थान पर बल्लेबाजी करने के दावेदार हैं लेकिन टीम प्रबंधन फिलहाल 50  ओवर के प्रारूप में इस स्थान पर विकेटकीपर बल्लेबाज पंत को मौके दे रहा है। गावसकर ने कहा कि मेरे नजरिए से ऋषभ पंत महेंद्र सिंह धोनी की तरह पांचवें या छठे स्थान पर  फिनिशर के रूप में बेहतर हैं, क्योंकि यहीं वह अपना स्वाभाविक खेल दिखा सकते हैं। उन्होंने कहा कि विराट कोहली, शिखर धवन और रोहित शर्मा अगर भारत को अच्छी शुरुआत  दिलाते हैं और 40- 45 ओवर तक बल्लेबाजी करते हैं, तो पंत चौथे नंबर पर ठीक है, लेकिन अगर 30-35 ओवर तक बल्लेबाजी करनी है, तो मुझे लगता है कि श्रेयस अय्यर चौथे  और पंत पांचवें स्थान पर होने चाहिए। टी-20 सीरीज में अंतिम एकादश में जगह बनाने में नाकाम रहे अय्यर ने कप्तान विराट कोहली (120) के साथ 125 रन की साझेदारी भी की,  जिससे भारत ने सात विकेट पर 279 रन बनाए। अय्यर की सराहना करते हुए गावसकर ने कहा कि उन्होंने मौके का फायदा उठाया। वह पांचवें नंबर पर उतरे। उनके पास काफी  ओवर थे और कप्तान विराट कोहली उनके साथ खेल रहे थे। इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता, क्योंकि कप्तान आपके ऊपर से दबाव कम करता है। उन्होंने कहा कि क्रिकेट में  सीखने की सर्वश्रेष्ठ जगह गेंदबाजी छोर है। विराट कोहली जब बल्लेबाजी कर रहे थे तो श्रेयस अय्यर यही कर रहे थे। दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान अय्यर इंडियन प्रीमियर लीग में  अच्छी फॉर्म में थे, लेकिन उन्हें विश्व कप टीम में जगह नहीं मिली। गावसकर का हालांकि मानना है कि इस युवा को अब एकदिवसीय क्रिकेट में अधिक मौके मिलने चाहिए।  गावसकर ने कहा कि मुझे लगता है कि अगर इससे उन्हें भारतीय मध्यक्रम में अधिक स्थाई जगह बनाने में मदद नहीं मिलेगी तो पता नहीं कि किससे मिलेगी। उन्होंने कहा कि इससे पहले खेले पांच मैचों में उन्होंने दो अर्धशतक जड़े और 88 रन का सर्वाधिक स्कोर बनाया। उन्होंने कुछ भी ऐसा गलत नहीं किया कि उन्हें विश्व कप टीम में जगह नहीं मिले,  लेकिन यह अतीत की बात है। गावसकर ने कहा कि अब उन्होंने वापसी की है और पहले ही मौके में 71 रन बनाए। इसलिए मुझे लगता है कि उन्हें अधिक मौके मिलने चाहिए।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget