अलविदा सुषमा स्वराज !

नई दिल्ली
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पंचतत्व में विलीन हो गईं। लोधी रोड स्थित शवदाह गृह में भाजपा की वरिष्ठ नेता का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।  सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी ने उनके अंतिम संस्कार के रीति रिवाज पूरे किए। इस मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी, लाल कृष्ण आडवाणी, गृह मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह,  लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला, जेपी नड्डा सहित बीजेपी के कई वरिष्ठ नेता लोधी रोड शवदाह गृह में मौजूद रहे। इसके अलावा सोनिया गांधी, गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा,  राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, रामदास अठावले, मनोहर लाल खट्टर, शरद यादव सहित कई नेता मौजूद थे. इससे पहले सुषमा स्वराज के पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के  लिए भाजपा मुख्यालय में रखा गया था।
सुषमा स्वराज का मंगलवार रात दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। वह 67 वर्ष की थीं। पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को मंगलवार रात तबीयत बिगड़ने के बाद एक्स में  भर्ती कराया गया था। भाजपा की वरिष्ठ नेता का 2016 में गुर्दा प्रतिरोपित किया गया था और स्वास्थ्य कारणों से उन्होंने लोकसभा चुनाव भी नहीं लड़ा था। नौ बार सांसद रहीं  सुषमा स्वराज आम लोगों मे अपार लोकप्रिय थीं। सुषमा स्वराज के निधन पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित लगभग सभी नेताओं ने शोक जताया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व केंद्रीय  मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर मंगलवार को गहरा दुख व्यक्त किया था और कहा था कि भारतीय राजनीति के एक गौरवशाली अध्याय का अंत हो गया। पीएम मोदी ने स्वराज  के निधन को व्यक्तिगत क्षति बताया। मोदी ने ट्वीट किया कि असाधारण नेता के निधन से भारत शोकाकुल है। उन्होंने कहा कि वह भूल नहीं सकते कि कैसे पूर्व विदेश मंत्री बिना  थके काम करती थीं। पीएम मोदी ने कहा कि यहां तक कि जब उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं था तब भी वह अपने काम के साथ न्याय करने के लिए जो कर सकती थीं करती थीं और  अपने मंत्रालय के मसलों से वाकिफ रहती थीं।
उनको ट्विटर पर एक करोड़ 20 लाख से अधिक लोग फॉलो करते हैं। वे दिल्ली की मुख्यमंत्री रही थीं। बता दें कि सुषमा स्वराज साल 1977 में सबसे कम उम्र की राज्यमंत्री बनी  थीं। अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार में वे सूचना एवं प्रसारण मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री रहीं। मालूम हो कि सुषमा स्वराज ट्विटर पर बहुत ज्यादा सक्रिय रहती   थीं। अपने निधन से कुछ घंटे पहले भी उन्होंने ट्वीट कर पीएम मोदी को बधाई दी थी. सुषमा स्वराज ने शाम 7 बजकर 23 मिनट पर ट्वीट किया था कि बहुत साहसिक और  ऐतिहासिक निर्णय। श्रेष्ठ भारत- एक भारत का अभिनंदन। प्रधानमंत्री जी- आपका हार्दिक अभिनंदन। मैं अपने जीवन में इस दिन को देखने की प्रतीक्षा कर रही थी।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget