मांझी के निशाने पर तेजस्वी

गया
बिहार में महागठबंधन में जारी खींचतान के बीच पूर्व सीएम और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा प्रमुख जीतन राम मांझी ने एक बार फिर से तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है। बुधवार को जीतन राम  मांझी ने तेजस्वी पर तंज कसते हुए कहा कि उनमें अनुभव की कमी है। मांझी ने कहा कि मेरे और लालू यादव जैसे पुराने लोगोंने बहुत से उठापटक देखे हैं, इसलिए वो कभी विचलित नहीं होते हैं, लेकिन तेजस्वी यादव में इसी चीज की कमी है। इसलिए तेजस्वी यादव विचलित हो जाते हैं। जीतनराम मांझी ने कहा कि तेजस्वी यादव को राजद का नेता चुना गया था, लेकिन इस निर्णय  में हमलोग साथ नहीं हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ने महागठबंधन को लेकर कहा कि अभी भी वर्ष 2020 विधानसभा चुनाव से पहले हमलोगों को बैठकर समीक्षा करने की जरूरत है और चर्चा करने के बाद अगले विधानसभा चुनाव में जाना चाहिए। हमने लालू यादव, राबड़ी देवी और घटक दल के लोगों से इस बात को लेकर चर्चा की है। बकौल मांझी, मैंने कहा कि हमें एक साथ बैठकर रणनीति बनानी चाहिए और सम्मिलित रूप से अपनी विचारधारा को लेकर प्रचार करना चाहिए। बिहार के पूर्व सीएम ने एनडीए पर भी निशाना साधा और कहा कि बिहार में एक कहावत है दो नावों पर  पैर रखनेवाला आदमी डूबता है। आज जेडीयू-भाजपा में 36 का रिश्ता है। बिहार के स्वास्थ्य महकमे में इतनी बड़ी गड़बड़ी के बाद भी नीतीश कुमार को हिम्मत नहीं हुई कि वह स्वास्थ्य मंत्री  मंगल पांडे को हटाएं। सूबे में कानून-व्यवस्था की समस्या भी काफी गंभीर है। आज बिहार में कानून नाम की कोई चीज नहीं है। पटना ऐसे शहर में आईपीएस को सरेआम पीटा जा रहा है, दारोगा  को पीटा जा रहा है और बच्चियों के साथ बलात्कार हो रहा है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget