भायंदर हुआ पानी-पानी

भारी बारिश के चलते भायंदर पानी-पानी हो गया। पूरे शहर के अधिकांश इलाको में 4 से 5 फुट पानी भर गया। पानी के बीच घरों में फंसे नागरिकों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के लिए नाव चलानी पड़ी। भारी बरसात के आगे प्रशासन के सारे इंतजाम फेल हो गये। रविवार छुट्टी का दिन होने से लोग घर मे ही दुबके रहे। दोपहर बाद बारिश थमी तो पानी घटना शुरू हुआ। इस बीच तल मंजिल के लोगों को ऊपर की मंजिल पर पड़ोसियों के यहां आश्रय लेना पड़ा। पानी में फंसे लोगों को खाने और पीने के पानी की समस्या का सामना करना पड़ा। घर-दुकान में पानी घुसने से  भारी नुकसान हुआ है। मीरा रोड केसिल्वर सरिता इलाके में बारिस का पानी इतना भर गया कि ग्राउंड लोर में रहने वालों को अपना घर छोड़ना पड़ा। पूरा ग्राउंड लोर पानी में डूबा हुआ था।  लोगों ने ऊपर के मजिंलों पर दुसरों के घरों में शरण ली। घरों में फंसे लोगों को बाहर निकले के लिए फायर ब्रिगेड द्वारा इलाके में नाव चलानी पड़ी। दोपहर तक इन इलाकों में 4 से 5 फीट  पानी भरा था। खाने पीने की सामान लेने के लिए नाव का सहारा लेना पड़ा। अग्निशमन अधिकारी प्रकाश बोराडे के अनुसार, सिल्वर पार्क, जांगिड, विजय पार्क, शीतल नगर, हटकेश, ग्रीन विलेज तथा वेस्टर्न होटल आदि हाइवे क्षेत्र में अधिक जलभराव रहा। घोडबंदर-ठाणे रोड पर चेना पुल और काजुपाडा के पास सड़क के ऊपर से पानी बह रहा था। जिससे 2 घंटा यातायात रोक दी गई थी।  वेस्टर्न पार्क के पास पानी से एक शव बरामद हुआ है। जिसकी शिनाक्त नही हो पाई है। जानकारी के अनुसार मीरा-भायंदर में 181 मिमी।वर्षा रिकॉर्ड की गई। भायंदर में  बीपी रोड, नवघर गांव  इलाका, केबिन रोड क्षेत्र में घर-दुकानों में भी पानी घुस गया। 
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget