गोरखपुर में अब लो और हाईवोल्टेज से परेशानी

गोरखपुर
आंधी के बाद शहर के कई इलाकों की बिजली आपूर्ति पटरी से उतर गई। कहीं बिजली आई तो लो वोल्टेज और हाईवोल्टेज ने परेशान कर दिया। पांच हजार से ज्यादा उपभोक्ता पूरी रात उमस भरी गर्मी में बेहाल रहे। उपभोक्ताओं ने अवर अभियंता को फोन किया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। उपकेंद्र पर भी सूचना दी गई, लेकिन रात में कोई नहीं आया। बुधवार को दोपहर आपूर्ति  सामान्य हो सकी। उपभोक्ताओं ने बताया कि सोमवार देर रात आई आंधी के बाद बिजली आई तो वोल्टेज बहुत ज्यादा था। इस कारण कई घरों के पंखे व बल्ब जल गए। थोड़ी देर बाद लो  वोल्टेज हो गया। पूरी रात यही चलता रहा। नगरीय विद्युत वितरण खंड प्रथम के अधिशासी अभियंतानवनीत प्रजापति ने बताया कि एक पोल पर न्यूट्रल टूटकर फेज में चिपक गया था। इस  कारण दिक्कत हुई। कांशीराम उपकेंद्र पूरी रात बंद रहा। आवास विकास फीडर से जुड़े इलाकों में पूरी रात बिजली की आंख-मिचौली चलती रही। राप्तीनगर, पादरी बाजार, शाहपुर, मोहद्दीपुर सहित  शहर के ज्यादातर हिस्सों में बिजली की आवाजाही जारी रही। गोरखनाथ क्षेत्र के विकासनगर उपकेंद्र में देर रात उपभोक्ताओं ने हंगामा किया। पूरे दिन बिजली की आंख-मिचौली से परेशान  उपभोक्ताओं ने उपकेंद्र बंद कराने की मांग शुरू कर दी। सूचना पर पहुंचे एसडीओ गोरखनाथ ने समझा-बुझाकर उपभोक्ताओं को वापस भेजा। विस्तारनगर इलाके में तार बदला गया था। ठेकेदार  के आदमी काम कर चले गए तो आपूर्ति बहाल की गई। जैसे ही आपूर्ति शुरू की जाती जंपर उड़ जाने के कारण फीडर बंद हो जा रहा था। कई बार प्रयास के बाद जब आपूर्ति नहीं शुरू हुई, तो  एक ट्रांसफार्मर से जुड़े उपभोक्ताओं की आपूर्ति बंद कर दी गई। अफसरों के निर्देश पर लाइन की पेट्रोलिंग शुरू की गई। इस बीच काफी देर से बिजली न मिलने से नाराज कुछ लोग उपकेंद्र पहुंच  गए और हंगामा करने लगे। उनका कहना था कि बिना सूचना बिजली काटी गई और पूछने पर कोई सही जवाब नहीं दे रहा है। आरोप है कि लोगों ने एसएसओ से दुर्व्यवहार किया। एसडीओ  नीरज दुबे ने कहा कि कुछ उपभोक्ता रात में उपकेंद्र आए थे। उन्हें समझाकर वापस कर दिया गया। ठेकेदार के कर्मचारियों ने गलत तरीके से फेज जोड़ दिया था इस कारण बार-बार जंपर उड़  जा रहा था।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget