साइकलिंगसे बच्चोंमे मोटापे का कम खतरा

हाल ही में एक स्टडी आई है, जिसमें दावा किया गया है कि जो बच्चे साइकलिंग करते हैं और खूब पैदल चलते हैं उनमें मोटापे का खतरा काफी कम रहता है। यानी अगर आपका बच्चा साइकल चलाता और वॉक पर भी जाता है, तो उसमें मोटापा नहीं पनप सकता। इस स्टडी के अनुसार, जो बच्चे पैदल या फिर साइकल से स्कूल जाते हैं उनमें उन बच्चों के  मुकाबले मोटापे का खतरा काफी कम रहता है, जो कार या फिर पब्लिक ट्रांसपॉर्ट के जरिए स्कूल जाते हैं। शोधकर्ताओं ने प्राइमरी स्कूल के बच्चों में वजन और मोटापे के स्तर पर  एस्ट्रा करिक्युलर ऐक्टिविटीज के प्रभाव का आकलन किया। इन ऐक्टिविटीज में बच्चों के रोजाना स्कूल आने और खेलों में भागेदारी तक को शामिल किया गया। शोधकर्ताओं ने  पाया कि बच्चों में मोटापे के स्तर को मापने के लिए बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) के मुकाबले फिजिकल ऐक्टिविटी ज्यादा कारगर थी, क्योंकि इसमें पूरे वजन का आकलन किया  जाता था। स्टडी के लेखक लैंडर बोश के अनुसार बीएमआई के साथ-साथ जिन बिंदुओं पर वह खराब सेहत से जुड़ा होता है, वह उम्र, लिंग और जाति के साथ अलग होता है।

मोटापा घटाना चाहते हैं, तो तुरंत लेना शुरू करें ये चीजें
प्राइमरी स्कूल के दो हजार बच्चों को शामिल किया गया। मोटापे के रिस्क को चेक करने के लिए शोधकर्ताओं ने बीएमआई का भी इस्तेमाल किया। इसमें चौंकाने वाला परिणाम सामने आया। शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन बच्चों ने रोजाना खेलकूद में भाग लिया उनमें उन बच्चों के मुकाबले अधिक वजन पाया गया, जिन्होंने सप्ताह में एक बार से कम  खेलकूद में भाग लिया। शोधकर्ता के अनुसार लगातार खेल में भागीदारी और मोटापे के स्तर के बीच इस कनेक्शन से पिछले शोध में अस्थिरता पैदा हो गई है, लेकिन इनमें से कई  स्टडीज बीएमआई को ही अपना आधार बना रही हैं। हालांकि जब हमने सिर्फ बॉडी फैट पर ही फोकस किया, तो हमने नोटिस किया कि जो बच्चे ऐक्टिव नहीं थे, उनमें सबसे ज्यादा  मोटापा देखा गया और अधिक वजन पाया गया। संभाव है कि जब बीएमआई को देखते हैं, तो कुछ इनऐक्टिव बच्चों को कम मसल मास के चलते मोटापे की कैटिगरी में नहीं रखा  जाता। शोधकर्ताओं ने कहा कि वॉकिंग करने या साइकल के जरिए स्कूल जाने से बचपन में होने वाले मोटापे से बचा जा सकता है और यह तरीका बेहद आसान भी है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget