बर्गर किंग ने पकड़ी विकास की तेज़ रफ़्तार

मुंबई
बर्गर किंग इंडिया ने अपने 200वें रेस्टोरेंट को लांच करके अपनी विकास की तेज रफ्तार जारी रखी है। ब्रांड ने पांच साल के सबसे कम समय के अंतराल में यह उपलब्धि हासिल  की। ज्यादा समय नहीं हुआ जब (2017 में) ब्रांड ने अपने 100वें रेस्टोरेंट के निशान को पार कर लिया था, जबकि अगले 100 को 22 महीनों से भी कम समय में पूरा किया गया  था। बर्गर किंग ने भारत में अपनी यात्रा के साथ दक्षिणी दिल्ली के सेलेक्ट सिटीवॉक मॉल में नवंबर 2014 में अपना पहला रेस्टोरेंट खोला। पिछले पांच वर्षों में, बर्गर किंग 44 शहरों  में उपस्थिति के साथ भारत में सबसे तेजी से बढ़ने वाला क्यूएसआर रहा है। ब्रांड की महानगरों और टियर 1 शहरों में अच्छी मौजूदगी है और यह पूरे भारत में टियर 2 शहरों में भी  विस्तार कर रहा है। बर्गर किंग सर्टिफिकेशन और सेल्फ-एक्सप्रेशन के मूल्यों के साथ आगे बढ़ा है और भारत में खुद को एक ब्रांड के रूप में सफलतापूर्वक स्थापित किया है, ऐसा  ब्रांड जो स्वाद और साख पर चलता है। अपने 100 फीसदी स्थानीय रूप से प्रेरित और विकसित रेंजर्स बर्गर और विश्व प्रसिद्ध व्हॉपर के लिए मशहूर ब्रांड ने हाल ही में अपने मेनू में  रैप्स और ब्रेकफास्ट को जोड़ा है। बर्गर किंग में रेस्टोरेंट के कई फॉर्मेट हैं जो मॉल, हाइ-वे और हवाई अड्डों, राजमार्गों और मेट्रो स्टेशनों जैसे पारगमन स्थानों में मौजूद हैं। मुंबई के   अंधेरी में चकला मेट्रो स्टेशन पर स्थित 200वां रेस्तरां है। इस उपलब्धि पर बर्गर किंग इंडिया प्रालि के सीईओ राजीव वर्मन ने कहा कि हम अब तक की अपनी विकास यात्रा से  बेहद उत्साहित और खुश हैं। हमने थोड़े समय के भीतर स्टोर की गिनती को दोगुना करके 200 स्टोर कर दिया है। एक मील का पत्थर पार करना एक बेहतरीन अनुभव है और हमें  प्रेरणा देता है कि हम हमारे मेहमानों के लिए सर्वश्रेष्ठ देना सुनिश्चित रखें और केवल आगे की तरफ कदम बढ़ाएं।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget