वीआईपीयों ने बनाया बच्चों की मौत को तमाशा

मुजफ्फरपुर
 बिहार के मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार यानी ए€यूट इन्सेफलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से एक ओर जहां 100 से ज्यादा मासूमों की मौत हो  की है, वहीं दूसरी ओर नेताओं और अन्य हस्तियों का अस्पताल आना जारी। नेताओं और बड़ी हस्तियों के श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज ऐंड हॉस्पिटल (एसकेएमसीएच) आने से मरीजों और उनके परिजनों के साथ-साथ कर्मियों को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। नेताओं और अन्य हस्तियों के एसकेएमसीएच का दौरा करने से परेशानी बढ़ जा रही है। कारण है कि नेताओं और अन्य हस्तियों के आने से उनके काफिले में शामिल गाड़ियों से मरीजों और परिजनों का अस्पताल में पहुंचना मुश्किल हो रहा है। नेताओं और अन्य हस्तियों के आने से आसपास के लोग भी देखने के लिए उमड़ पड़ते हैं, इससे ज्यादा भीड़ हो जाने से परेशानी उत्पन्न हो जा रही है। गुरुवार को लोकतांत्रिक जनता दल के मुखिया शरद यादव अपने काफिले के साथ अस्पताल पहुंचे। बताया जाता है कि उनके काफिले में डेढ़ दर्जन से ज्यादा गाड़ियां थीं। वहीं, गुरुवार को भोजपुरी अभिनेता और गायक खेसारी लाल यादव भी अस्पताल पहुंचे। अभिनेता को देखने के लिए अस्पताल के पास भीड़ जमा हो गई। इससे अस्पताल परिसर में अफरातफरी मच गई। एंबुलेंसों का अस्पताल आना-जाना भी मुश्किल हो गया। वहीं, सकेएमसीएच से बाहर निकलने पर फेसबुक लाइव कर खेसारी लाल यादव ने पीड़ितों की मदद करने की अपील की है। मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच के कैदी वार्ड को दूसरी जगह स्थानांतरित कर दिया गया है। कैदियों के वार्ड के स्थान को आईसीयू में परिवर्तित किया गया है। एसकेएमसीएच प्रबंधक का कहना है, 'हमने इस वार्ड को आईसीयू में बदल दिया है और कैदियों के वार्ड को स्थानांतरित कर दिया है। यह हमारी क्षमता को 19 बिस्तरों तक बढ़ा देगा। इसे शीघ्र ही कार्यात्मक बना दिया जाएगा।'
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget