आरटीआई : 10 रुपए की बजाय लग रहा 22 रुपए शुल्क

नागपुर
केंद्र सरकार के विभागों में आरटीआई के तहत ऑनलाइन आवेदन करने पर जहां महज 10 रुपए शुल्क लगता है, वहीं महाराष्ट्र में जीएसटी व अन्य शुल्क मिलाकर 21 रुपए 80 पैसे  लग रहा है। किसी भी विभाग से जानकारी लेने के लिए साइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है। केंद्र सरकार से संबंधित विभागों की ऑनलाइन जानकारी मांगने पर  केवल 10 रुपए शुल्क लगता है, वहीं महाराष्ट्र सरकार से संबंधित विभागों की ऑनलाइन जानकारी मांगने पर 21 रुपए 80 पैसे शुल्क वसूला जा रहा है। केंद्र सरकार ने सभी राज्य  सरकारों को ऑनलाइन आवेदनों का शुल्क एक जैसा करने की सूचना की है, ताकि इस काम में एकसूत्रता बनी रहे।

ऑनलाइन आवेदन महंगा 
आरटीआई के तहत ऑफलाइन आवेदन करने पर 10 रुपए की स्टैंप ड्यूटी लगानी पड़ती है। सरकार ऑनलाइन ट्रांजेक्शन को बढ़ावा दे रही है, लेकिन ऑनलाइन आवेदन करने पर  अतिरिक्त शुल्क वसूला जा रहा है। राज्य में ऑफलाइन की तुलना ऑनलाइन आवेदन महंगा हो गया है। आरटीआई एक्टिविस्ट संजय थुल के मुताबिक केंद्र व राज्य सरकार के काम  में एकसूत्रता होनी चाहिए। केंद्र सरकार की सूचना का राज्य में अमल होना चाहिए। ऑफलाइन आवेदन करने पर 10 रुपए व ऑनलाइन आवेदन करने पर 21 रुपए 80 पैसे शुल्क  यह आरटीआई एक्टिविस्ट व समाजसेवकों पर अन्याय है। केंद्र सरकार को पत्र लिखकर इसकी शिकायत की जा रही है।

आरटीआई आवेदन शुल्क 10 रुपए
पोर्टल शुल्क 5 रुपए
ट्रांजेक्शन शुल्क 5 रुपए
जीएसटी 1 रुपए 80 पैसे

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget