नडाल, फेडरर और जोकोविच ही होंगे अमेरिकी ओपन के दावेदार

न्यूयॉर्क
कई युवा खिलाड़ी पुरुष टेनिस के बिग थ्री का दबदबा तोड़ने की उम्मीद करेंगे, लेकिन नोवाक जोकोविच, राफेल नडाल और रोजर फेडरर अमेरिकी ओपन के प्रबल दावेदार बने रहेंगे।  शीर्ष रैंकिंग के खिलाड़ी जोकोविच, 20 बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन फेडरर और स्पेनिश सुपरस्टार नडाल ने मिलकर यहां पिछले 11 ग्रैंडस्लैम खिताब हासिल किये हैं। अड़तीस साल के  फेडरर को सोमवार से फ्लशिंग मिडोज हार्डकोर्ट में शुरू होने वाले इस टूर्नामेंट में खेल के दिग्गजों द्वारा बनाए गए इस दबदबे से कोई परेशानी नहीं दिखती जिन्होंने मिलकर पिछले  65 ग्रैंडस्लैम खिताबों में से 54 ट्राफियां जीत चुके हैं।
उन्होंने कहा कि मुझे इससे कोई समस्या नहीं दिखती। अब नोवाक, राफा और मैं स्वस्थ हो चुके हैं। एंडी मरे भी धीरे धीरे वापसी कर रहे हैं। इससे युवा खिलाड़ियों के लिये काफी  मुश्किल हो जाएगी। गत चैंपियन जोकोविच 17वें कैरियर ग्रैंडस्लैम खिताब पर निगाह लगाए होंगे। उन्होंने पिछले पांच में से चार ग्रैंडस्लैम जीते हैं, जून में फ्रेंच ओपन फाइनल में  उन्हें नडाल से हार मिली थी। 32 साल के सर्बियाई खिलाड़ी ने कहा कि उन्होंने पिछले कुछ समय में खिताब बचाने के अतिरिक्त दबाव से निपटना सीख लिया है। उन्होंने कहा कि  ग्रैंडस्लैम खिताब के बचाव की चुनौती काफी ज्यादा होती है। आप इन टूर्नामेंट को जीतना चाहते हो। आप इन्हीं में चमकना चाहते हो। तैंतीस साल के नडाल ने रोम, फ्रेंच ओपन और  मांट्रियल में खिताबी जीत से शानदार प्रदर्शन किया है, वह व्बिलडन के सेमीफाइनल में फेडरर से हार गए थे। नडाल ने कहा कि बड़े टूर्नामेंट में सकारात्मकता के साथ आने से मदद  मिलती है। इससे आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होती है। मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं। मैंने अच्छा अभ्यास किया है। दूसरी रैंकिंग पर काबिज नडाल ने जून में 12वां फ्रेंच ओपन खिताब  जीता था। 18 बार के ग्रैंडस्लैम विजेता नडाल हालांकि फेडरर और जोकोविच दोनों ड्रॉ के दूसरे हाफ में होने से उत्साहित नहीं हैं। उन्होंने कहा कि मुझे अपने मैच जीतने होंगे, क्योंकि  तभी मैं सेमीफाइनल में उनसे भिड़ सकता हूं। मुझे इससे पहले काफी काम करना होगा। रूस के दानिल मेदवेदेव ने अमेरिकी ओपन की तैयारियों के लिये आयोजित टूर्नामेंट में अच्छा  प्रदर्शन किया है, उन्होंने सिनसिनाटी में खिताब जीता तो वह वाशिंगटन और मांट्रियल में उप विजेता रहे। उन्होंने कहा, मैं खुद को प्रबल दावेदारों में नहीं मानता क्योंकि अपने कैरियर  में मैं एक ग्रैंडस्लैम के क्वार्टरफाइनल तक भी नहीं पहुंचा हूं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget