सावरकर को न मानने वालों को चौक पर पीटना चाहिए: उद्धव

मुंबई
दिल्ली विश्वविद्यालय परिसर में वीर सावरकर की प्रतिमा की अवमानना मामले पर शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे ने आक्रामक भूमिका अपनाई है। उन्होंने कहा कि वीर सावरकर  को नहीं मानने वालों को भरे चौक में पीटना चाहिए। वीर सावरकर की मूर्ति लगाने का विरोध करते हुए एनएसयूआई ने चेहरे पर कालिख पोत दी थी। एनएसयूआई का आरोप रहा  कि एबीवीपी ने यूनिवर्सिटी प्रशासन से अनुमति लिए बिना मूर्ति लगाई। ऐसे में शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे ने इस मसले पर आक्रामक रुख अपनाया। उद्धव ठाकरे ने कहा कि  आजादी के लिए सावरकर ने कितना संघर्ष किया था, यह उनके सिवाय कोई नहीं जानता। सभी किसानों को मिले फसल बीमा योजना का मुआवजा शिवसेना पक्ष प्रमुख ने मांग की  कि राज्य के सभी किसानों को फसल बीमा योजना के तहत मुआजवा मिलना चाहिए। उन्होंने बीमा कंपनियों को चेताया कि यदि उन्होंने किसानों को नुकसान भरपाई से वंचित रखा  तो शिवसेना फिर से आंदोलन करेगी। मातोश्री में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में उद्धव ने कहा कि फसल बीमा योजना में बीमा कंपनियों की भूमिका संदिग्ध है और किसानों को इसका  लाभ नहीं मिल रहा है। कंपनियों के पास फसल बीमा का 2 हजार करोड़ रुपए पड़ा हुआ है। जून माह में शिवसेना ने बीकेसी में बीमा कंपनियों के खिलाफ आंदोलन किया था।  शिवसेना ने दावा किया था कि आंदोलन के बाद 10 लाख किसानों को 960 करोड़ रुपए मिला था।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget