यूपी के यातायात पुलिसकर्मियों की वर्दी में फिर होगा बदलाव

लखनऊ
यूपी के यातायात पुलिसकर्मियों की वर्दी में जल्द कुछ और बदलाव किए जाने की तैयारी है। यातायात निरीक्षक से लेकर सिपाही तक की वर्दी में एकरूपता को लेकर मंथन किया जा रहा है।  डीजीपी ओपी सिंह ने एडीजी कमल सक्सेना की अध्यक्षता में कमेटी गठित की है। दरअसल बीते दिनों यातायात पुलिस के मुख्य आरक्षी और आरक्षी को सफेद शर्ट के साथ नीली पैंट पहनने का  आदेश हुआ था। अब उनकी टोपी को भी खाकी से बदलकर नीली किए जाने की तैयारी है। यातायात पुलिस में निरीक्षक, उपनिरीक्षक व सिपाही की वर्दी में समानता नहीं है। ट्रैफिक पुलिस के  मुख्य आरक्षी व आरक्षी नीले पैंट के साथ सफेद शर्ट पहनते हैं। बेल्ट व जूते भूरे पहनते हैं और खाकी टोपी लगाते हैं। यातायात शाखा के उप निरीक्षक खाकी पैंट के साथ सफेद शर्ट पहनते हैं। वे  पी कैप लगाते हैं और भूरे जूते व बेल्ट पहनते हैं। यातायात निरीक्षक पूरी खाकी वर्दी पहनते हैं। ट्रैफिक पुलिस के निरीक्षक व उपनिरीक्षक नेम प्लेट सफेद रंग की लगाते हैं। बताया गया कि  यातायात पुलिसकर्मियों की वर्दी में एकरूपता लाने के लिए गहनता से विचार किया जा रहा है। नीले पैंट के साथ सफेद बेल्ट व काले जूते की व्यवस्था किए जाने सहित कई अन्य बिंदुओं पर भी  विचार किया जा रहा है। कमेटी की सिफारिशें मिलने पर डीजीपी के स्तर पर यातायात पुलिसकर्मियों की वर्दी में बदलाव तय होगा। उल्लेखनीय है कि बीते दिनों महिला पुलिसकर्मियों की वर्दी में  भी बदलाव किया गया था।
गौरतलब है कि बसपा सरकार ने 2007 में सत्ता में आने के बाद यातायात पुलिसकर्मियों की वर्दी में बदलाव करते हुए उनकी पतलूनऔर बैरेट कैप नीली करने के साथ सीटी डोरी और मोजे नीले  कर दिए थे। उस समय विपक्ष में रही सपा ने मायावती सरकार पर यातायात पुलिस का बसपाकरण करने का आरोप लगाया था। फिर सपा सरकार आई तो उसने पुलिस की नीली पैंट को खाकी  कर दिया।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget