महायुति को मिलेगा प्रचंड बहुमत : मुख्यमंत्री

मुंबई
मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस की महाजनादेश यात्रा को जगह-जगह जनता का भारी समर्थन मिल रहा है । इस बीच धुले में शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने विश्वास व्यक्तकिया कि प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा और शिवसेना की महायुति को प्रचंड बहुमत से जीत हासिल होगी और आगामी पांच साल में अधिक काम कर महाराष्ट्र  को सूखे से मुक्त करेंगे। मुख्यमंत्री की महाजनादेश यात्रा का दूसरा चरण गुरुवार को धुले से शुरु हुआ। शुक्रवार को उन्होंने धुले में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया। प्रेस कांफ्रेंस के  दौरान जलसंपदा मंत्री गिरीश महाजन, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. सुभाष भामरे, प्रदेश महासचिव सुजीत सिंह ठाकुर, प्रदेश सह प्रमुख प्रवक्ता केशव उपाध्ये आदि उपस्थित थे।  मुख्यमंत्री ने कहा कि महाजनादेश यात्रा के पहले चरण में 10 जिलों की जनता से संपर्क साधा गया था। राज्य में भीषण बाढ़ की स्थिति की वजह से यात्रा स्थगित कर दी गई थी।
यात्रा का दूसरा चरण गुरुवार से शुरु हुआ। यात्रा में हम जनता के प्रचंड प्रतिसाद का अनुभव कर रहे हैं। भाजपाशिवसेना महायुति सरकार ने कई काम किए और लोगों  को लगता है  कि बाकी बचे काम भी इसी सरकार को पूरा करना चाहिए। जनता चाहती है कि देश और राज्य में भाजपा युति की सरकार रहनी चाहिए। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में  राज्य में प्रचंड बहुमत से एक बार फिर महायुति की सरकार बनेगी। पिछले पांच साल में किए गए कार्यों की अपेक्षा आगामी पांच साल में अधिक तेज गति से काम कर महाराष्ट्र को  सूखे से मुक्त करेंगे। सीएम ने कहा कि धुले जिले के 504 गांवों में जलयुक्त शिवार के काम हुए हैं और इस साल हुई बारिश से पानी का अच्छा स्टॉक जमा हुआ है। जिले के 84  हजार किसानों को 471 करोड़ रुपए की कर्जमाफी का लाभ मिला है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना का लाभ 2 लाख 12 हजार किसानों को मिला है। जिले की एक लाख   महिलाओं को उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्शन का लाभ मिला है। मनमाड-धुले-इंदौर रेलवे मार्ग के लिए जमीन अधिग्रहण का काम शुरु है।

सावरकर का सम्मान बनाएं रखे
दिल्ली विश्वविद्यालय में वीर सावरकर की प्रतिमा के अपमान के सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि सावरकरजी अनेक क्रांतिकारियों के गुरू थे। सावरकर और उनके परिजनों  ने देश के लिए किए त्याग की किसी से तुलना नहीं हो सकती। उनका सम्मान करना बेहद जरूरी है। उपरोक्त घटनाक्रम में शामिल लोगों को जरूर सजा मिलेगी, लेकिन इस घटना  का फायदा उठाकर किसी ने भी लोगों को भड़काने की या कानून को अपने हाथ में लेने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।

विपक्ष की अवस्था बुद्धू बच्चों जैसी
जलगांव में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि ईवीएम को दोषी ठहराने वाले विपक्ष की अवस्था उस बुद्धु बच्चे की तरह हो गई है,  जो  परीक्षा में फैल होने की वजह पेन खराब होने को बताता है। सीएम ने कहा कि कांग्रेस-राकांपा में सत्ता की अकड़ थी और उन्होंने जनता का ध्यान नहीं रखा। उन्होंने जनता का काम  करने के बजाय खुद के संस्थाओं को चलाने पर ध्यान दिया। यही वजह है कि जनता चुनावों में उन्हें लगातार नकार रही है। मतदाताओं के मन में घर बनाने के शिवाय मत नहीं  मिलते। कारण वोट मतदाता देते हैं, ईवीएम नहीं। यह बात विपक्ष को ध्यान रखनी चाहिए।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget