सत्यापन के बाद डुप्लीकेट मिले 3154 मतदाता

वाराणसी
आपने राम और श्याम, सीता और गीता फिल्म में हमशफ्ल की जोड़ी देखी होगी। कुछ ऐसा ही नजारा निर्वाचन आयोग के सामने आया है। निर्वाचन आयोग ने जिले में एक ही नाम, शफ्ल, लिंग  और पते के 12073 मतदाताओं को चिह्नित किया है। हमशफ्ल दिख रहे मतदाताओं का निर्वाचन आयोग ने जिला निर्वाचन अधिकारी को स्थलीय निरीक्षण कराकर सत्यापन कराने का निर्देश दिया है। यदि एक ही व्यक्ति दो स्थानों पर रहता है तो एक स्थान से उसके नाम मतदाता सूची से काटने के साथ अवगत कराएं। अभी तक 3154 मतदाताओं का नाम सामने आए हैं। बूथ लेबल अफसर (बीएलओ) घर-घर जाकर उनका सत्यापन करने के साथ 877 मतदाताओं को नोटिस जारीकिया है, जिसमें 742 को तामिल करा चुके हैं। एकही मतदाता का नाम दो से तीन बूथों होने के  मामले प्रकाश में आते रहते हैं। निर्वाचन आयोग के निर्देश पर जिला निर्वाचनकर्मी सत्यापन कर नाम मतदाता सूची से काटते रहते हैं।
निर्वाचन आयोग ने साक्टवेयर से  जिले के 12073 ऐसे मतदाताओं को चिह्नित किया है जिनके नाम, पिता के नाम, पता, लिंग, उम्र और फोटो एक जैसे हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि जिले  के मतदाता सूची में नाम होने के  साथ दूसरे जिले में भी उसका मतदाता सूची में नाम होने से इंकार नहीं किया जा सकता है। निर्वाचन आयोग के निर्देश पर जिला निर्वाचन कार्यालय ने प्रथम  दृष्टिया सत्यापन में 3154 मतदाता के नाम, पिता, पता, लिंग, उम्र और फोटो एक जैसे मिले
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget