ठाणे की 34 सड़कों का होगा विस्तार

ठाणे
पुराने ठाणे का विकास संकरे रास्तों के कारण लटका था, लेकिन अब इसे एक वर्ष बाद आगामी विधानसभा चुनाव को ध्यान रखते हुए शुरू किया जा रहा है। मनपा के इस निर्णय के तहत कोपरी  से माजिवाड़ा तक के 21 रास्ते है और अन्य 13, कुल 34 सड़कों की चौड़ाई अब 9 मीटर अथवा इससे अधिक की जाने वाली है। इस संदर्भ में मनपा प्रशासन ने नागरिकों से सुझाव और आपत्ति  मंगाने की शुरुआत कर दी है।
ज्ञात हो कि ठाणे का घोडबंदर परिसर में नया ठाणे तेजी से विकसित हुआ है, लेकिन पुराना ठाणे आज भी अपने बदनसीबी का रोना रो रहा है, जिसका मुख्य कारण संकरे रास्ते हैं। यही कारण है कि पुराने ठाणे में 30 से 40 वर्ष पुरानी इमारतों का पुनर्विकास अधर में लटका हुआ है। अनेक इमारतें जर्जर अवस्था में पहुंच चुकी है, लेकिन इन इमारतों के पुनर्विकास के लिए अतिरिक्त एफएसआई अथवा टीडीआर नहीं मिल पा रहा था। इसके चलते नौपाड़ा, विष्णुनगर, राबोड़ी, खारटन लेन जैसे परिसरों में पुनर्विकास ही नहीं हो रहा था।
पुराने ठाणे में बने इमारतों पर नजर डाली जाए तो कोपरी से लेकर माजिवाडा परिसर के अधिकांश सड़कें और इमारतें ग्राम पंचायत के काल से बनी हुई हैं। इन सड़कों की चौड़ाई सिर्फ छह से  आठ मीटर तक ही है। ऐसे में 30 वर्ष पुराने इमारतों को टीडीआर ही नहीं मिल रहा था और पुनर्विकास अधर में लटका हुआ है। ऐसे में एमआरटीपी नियमानुसार और इमारतों का विकास करते  मय फायर ब्रिगेड का अथवा वाहन या फिर आपत्ति विभाग का वाहन अंदर आने के लिए 9 मीटर अथवा इससे अधिक का रास्ता होना अनिवार्य है। वागले और लोकमान्य नगर जैसे परिसर के लिए फ्लस्टर योजना लागू की जा रही है, लेकिन शहर का मुख्य हिस्सा अब तक लटका हुआ था। मनपा प्रशासन द्वारा इन सड़कों का सर्वे किया। जिससे पता चला कि शहर की 21 सड़कें हैं,  जिनकी चौड़ाई 9 मीटर कम है। इनके आलावा 13 अन्य सड़कें हैं जो संकरी हैं। इन सभी को मिलाकर अब कुल 34 सड़कें ऐसी हैं। जिनका मनपा प्रशासन चौड़ाई नौ मीटर अथवा इससे अधिक  करने वाली है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget