फ्री में पाएं 50 लीटर पेट्रोल-डीजल!

नई दिल्ली
देशभर में लगातार पेट्रोल और डीजल के दामों में इजाफा हो रहा है। इस बीच अगर हम आपसे कहें कि आप 50 लीटर पेट्रोल फ्री में पा सकते हैं, तो शायद आप भरोसा न करें,  लेकिन सच में यह मौका आपको एचडीएफसी बैंक और इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन दे रहे हैं। एचडीएफसी बैंक ने इंडियन ऑयल कार्पोरेशन के साथ मिलकर एक क्रेडिट कार्ड लांच किया   है। इस क्रेडिट कार्ड की मदद से आप सालभर में 50 लीटर फ्यूल मुक्त में हासिल कर सकते हैं। इसके अलावा इस कार्ड का इस्तेमाल करके आप हर दिन ग्रॉसरी और बिल पेमेंट में   आकर्षक छूट भी पा सकते हैं।

मिलते हैं 'फ्यूल पॉइंट्स'
यह क्रेडिट कार्ड नॉन मेट्रो शहरों और कस्बों के लिए लांच किया गया है। इंडियन ऑयल के करीब 27,000 आउटलेट्स पर ग्राहक फ्यूल पॉइंट हासिल कर सकते हैं। इसके अलावा   ग्रॉसरी खरीदने, बिल पेमेंट और शॉपिंग के दौरान इस कार्ड का इस्तेमाल करने पर भी फ्यूल पॉइंट मिलता है। इन पॉइंट्स को भुनाकर ग्राहक हर साल 50 लीटर पेट्रोल या डीजल  बिल्कुल फ्री में हासिल कर सकते हैं। इस ऑफर के तहत आप फ्यूल डलवाते समय जितने पैसे खर्च करते हैं उसका 5 फीसदी हिस्सा आपको फ्यूल पॉइंट के रूप में मिलेगा। इंडियन  ऑयल के आउटलेट पर पहले 6 महीनों में आपको हर महाने अधिकतम 250 फ्यूल पॉइंट्स मिल सकते हैं। 6 महीने के बाद आप अधिकतम 150 फ्यूल पॉइंट्स हासिल कर सकते  हैं। वहीं हर बार 150 रुपए खर्च करने पर आपको 1 फ्यूल पॉइंट मिलेगा। वहीं अगर आप एक साल में कम से कम 50 हजार रुपए खर्च करते हैं तो आपको इस क्रेडिट कार्ड को रि- न्यू कराने के लिए भी कोई शुल्क नहीं देना होगा। इस ऑफर के तहत मिले पॉइंट्स को आप अलग-अलग तरीके से भुना सकते हैं। आप चाहें तो इसे इंडियन ऑयल के  आईएक्सआरपी प्रोग्राम मेंबरशिप के तहत इसे भुना सकते हैं। आप इन पॉइंट्स को एचडीएफसी नेटबैंकिंग के जरिए भी भुना सकते हैं। आप चाहें तो इन पॉइंट्स को अपने इंडियन  ऑयल एचडीएफसी बैंक क्रेडिट कार्ड में कैशबैक की तरह भी भुना सकते हैं।

ऐसे पा सकते हैं 'इंडियन ऑयल एचडीएफसी बैंक क्रेडिट कार्ड'
इस क्रेडिट कार्ड के लिए आप एचडीएफसी बैंक की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं। आप चाहें तो अपने पास की एचडीएफसी शाखा पर जाकर भी  इस  क्रेडिट कार्ड को पा सकते हैं। आईओसीएल के एग्जिक्युटिव डायरेक्टर (रीटेल सेल्स) विज्ञान कुमार ने बताया कि डिजिटल या कैशलेश ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के लिए यह कदम उठाया गया है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget