उम्मीदों का बोझ आपको नर्वस कर सकता है : मेरीकॉम

Mary_Kom
नई दिल्ली
विश्व मु€केबाजी चैंपियनशिप की सबसे सफल मु€केबाज एमसी मेरी कॉम ने कहा कि 9वीं बार इस शीर्ष प्रतियोगिता में भाग लेने से पहले वह नर्वस हैं। ऐसा प्रतिस्पर्धा के कारण नहीं,  बल्कि स्वदेश में लगाई जा रही उम्मीदों की वजह से है। मेरी कॉम ने अब जिन आठ विश्व चैंपियनशिप में हिस्सा लिया है, उनमें उन्होंने छह गोल्ड और एक सिल्वर मेडल जीता है।   उन्होंने पिछली बार 2018 में दिल्ली में विश्व चैंपियनशिप में हिस्सा लिया था। आंकड़ों में तो वह इस प्रतियोगिता की सबसे सफल मु€केबाज हैं। उन्हें अंतर्राष्ट्रीय मु€केबाजी संघ  (एआईबीए) से  मैग्निफिसेंट मेरी का तमगा भी मिला है। रूस के उलान उदे में तीन से 13 अक्टूबर के बीच होने वाली विश्व चैंपियनशिप से पहले मेरी कॉम ने कहा कि मैं हमेशा  कहती हूं कि मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूंगी, लेकिन मेडल की गारंटी नहीं दे सकती। मैं खुद से ही यही कहती हूं, लेकिन दबाव हमेशा बना रहता है और इससे उबरने को लेकर   दबाव बना रहता है। इससे आप नर्वस हो सकते हो।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget