टूंडला विधानसभा का अटका उपचुनाव

आगरा
फीरोजाबाद जिले की सुरक्षित टूंडला विस सीट पर चुनावी तैयारियों को तगड़ा झटका लगा है। शनिवार को चुनाव आयोग द्वारा जारी की गई अधिसूचना सूची से विस का नाम नहीं है। इसकी जानकारी मिलते ही राजनीतिक हलकों में खलबली मच गई है। प्रशासन आयोग से संपर्क किए जाने की बात कह रहा है। पांच विधानसभा वाले फीरोजाबाद की टूंडला सुरक्षित सीट से 2017 में  प्रो.एसपी सिंह बघेल ने बड़ी जीत हासिल की थी और योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाए गए थे। लोकसभा सीट आगरा से चुनाव जीतने के बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद चुनाव  की तैयारियां शुरू  हो गई थीं। अब तक की तैयारियों में सपा-बसपा और कांग्रेस प्रत्याशियों की घोषणा कर मैदान में उतर चुकी है। वहीं भाजपा पिछले दो महीने से विधानसभा क्षेत्र में संपर्क  अभियान चला रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी जनसभा कर चुके हैं। ऐसे में राजनीतिक दलों की तैयारियों को तगड़ा झटका लगा है। 80 के दशक में आगरा से कटकर फीरोजाबाद जिले  में शामिल हुई यह सीट शुरू  से आरक्षित है और सपा, बसपा और भाजपा जीतती रही है। विधानसभा चुनाव से कुछ महीनों पहले प्रो.एसपी सिंह बघेल को अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र मिला  था। इससे पहले वे पिछड़ा वर्ग में थे और फीरोजाबाद से सांसद का चुनाव लड़ चुके थे। विधानसभा में उनकी जीत के बाद विपक्षी दलों ने उनकी जाति प्रमाण पत्र को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी।  उसके बाद से लगातार मामला चल रहा है। इस संबंध में उन्हें हाईकोर्ट से नोटिस भी जारी हुआ है। हालांकि सांसद बनने के बाद प्रो. बघेल विस सदस्यता से इस्तीफा दे चुके थे और यह मुद्दा शांत  हो चुका था। इसके बाद भाजपा ने सीट को दोबारा हासिल करने के लिए जी-जान लगा दी थी। सपा ने अपने पुराने वफादार महराज सिंह धनगर, बसपा ने सुनील चित्तौड़ और कांग्रेस ने स्नेहलता को प्रत्याशी घोषित कर दिया था।
भाजपा से दावेदारों की लाइन चल रही थी। चुनाव टलने के संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी डीएम चंद्रविजय सिंह का कहना है कि वे चुनाव आयोग कार्यालय से जानकारी कर रहे हैं। अब तक  लखनऊ से उन्हें कोई अधिकृत जानकारी प्राप्त नहीं हुई है। टूंडला विधानसभा सीट को लेकर भाजपा की बड़ी उम्मीदें थीं। इसी के चलते 14 सितंबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सभा हुई थी और जिले की चार अरब से ज्यादा की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया गया था। अधिसूचना सूची से टूंडला का नाम गायब होने की खबर लगते ही भाजपा नेताओं में लखनऊ में  न बजाना शुरू  कर दिया है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि पूर्व विधायक एसपी सिंह बघेल के खिलाफ हाईकोर्ट में चल रही रिट के चलते फिलहाल चुनाव टलते नजर आ रहे हैं।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget