कांग्रेस के साथ युती नहीं : आंबेडकर

मुंबई
राज्य में आगामी विधानसभा चुनावों में बहुजन वंचित आघाड़ी कांग्रेस के साथ युति नहीं करेगी। वंचित आघाड़ी के नेता प्रकाश आंबेडकर ने कहा कि कांग्रेस के साथ बातचीत के  दरवाजे बंद हो चुके हैं और वंचित आघाड़ी अपने दम पर चुनाव मैदान में उतरेगी। यहां आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में आंबेडकर ने यह घोषणा की।
भारिप बहुजन महासंघ और एमआईएम के गठबंधन वंचित बहुजन आघाड़ी को लोकसभा चुनाव में बड़े पैमाने पर वोट मिले थे। औरंगाबाद में आघाड़ी का सांसद चुनकर आया। ऐसे में  विधानसभा चुनाव में वंचित विशेषकर प्रकाश आंबेडकर की पार्टी को कांग्रेस-राकांपा आघाड़ी में शामिल करने का प्रयास किया जा रहा था। हालांकि प्रकाश आंबेडकर राकांपा को अलग  कर कांग्रेस से गठबंधन करने में अधिक रुचि दिखा रहे थे। इसके लिए उन्होंने कांग्रेस से 50 फीसदी सीटों की मांग की थी, लेकिन कांग्रेस ने उनकी मांगों पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया।  ऐसे में उन्होंने अकेले चुनाव मैदान में उतरने का फैसला किया। अनंत चतुर्दशी के बाद वंचित आघाड़ी के उम्मीदवारों की सूची घोषित होगी। आंबेडकर ने कहा कि हमने कांग्रेस के  पास 144-144 सीटों का प्रस्ताव दोबारा भेजा था, लेकिन उन्होंने कोई प्रतिसाद नहीं दिया। ऐसे में हमने चर्चा रोकने का निर्णय लिया। अन्य जो दल साथ आएंगे, उन्हें साथ लेंगे।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget