प्याज के बाद टमाटर भी हुआ लाल

tomato
नई दिल्ली
बरसात के कारण कीमतों में वृद्धि से पहले प्याज ने देश के आम उपभोक्ता को रुलाया, लेकिन अब टमाटर की बारी है। देश की राजधानी दिल्ली में बीते एक सप्ताह में टमाटर के  दाम में 70 फीसदी का इजाफा हो चुका है। टमाटर के लाल होने से इस त्योहारी सीजन में लोग परेशान हैं।
महाराष्ट्र और कर्नाटक सहित दक्षिण भारत के राज्यों में हुई भारी बारिश के कारण प्याज की सप्लाई बाधित होने के कारण इसकी कीमतों में बीते दिनों भारी इजाफा हुआ, लेकिन  अब इसका असर टमाटर पर भी दिखने लगा है। दिल्ली-एनसीआर में टमाटर बीते कुछ दिनों से खुदरा में 40-60 रुपए किलो बिकने लगा है और आने वाले दिनों में कीमतों में और  इजाफा होने की संभावना जताई जा रही है। नोएडा निवासी मंजू सिंह ने बताया कि प्याज और टमाटर के दाम में बेशुमार इजाफा होने से रसोई का बजट बिगड़ गया है। उन्होंने  बताया कि पहले 30 रुपए में जहां एक किलो टमाटर मिलता था वहां अब इसके लिए दोगुने पैसे खर्च करने पड़ते हैं। दिल्ली ही नहीं, पूरे देश में टमाटर की कीमतों में भारी वृद्धि हुई  है। केंद्रीय उपभोक्ता मामले विभाग की वेबसाइट के अनुसार, चंडीगढ़ में बुधवार को प्याज का भाव 52 रुपए किलो था। निजी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, चंडीगढ़ में प्याज  का भाव 50-60 रुपए प्रति किलो था।
दिल्ली की आजादपुर मंडी में गुरुवार को औसत से अच्छी वेरायटी के टमाटर का 25 किलो का पैकेट 800 रुपए से ऊपर के भाव बिक रहा था। वहीं, औसत से नीचे की वेरायटी का  टमाटर 500 रुपए प्रति पैकेट था। आजाद कृषि उत्पादन मार्केट कमेटी (एपीएमसी) की कीमत सूची के अनुसार, एक दिन पहले बुधवार को टमाटर का थोक भाव आठ रुपए से लेकर  34 रुपए प्रति किलो था और आवक 560.3 टन थी। जबकि एक सप्ताह पहले 19 सितंबर को दिल्ली में एपीएमसी के रेट के अनुसार, टमाटर का थोक भाव 4.50-20 रुपए प्रति  किलो था, जबकि आवक 1,700 टन थी। एपीएमसी के एक अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि महाराष्ट्र और कर्नाटक में भारी बारिश होने और बाढ़ आने से खेतों में पानी भरा  हुआ है, जिससे टमाटर की आवक घटकर एक तिहाई से भी कम रह गई है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget