सऊदी अरामको ला रहि है दुनीया का सबसे बड़ा आईपीओ

नई दिल्ली
सऊदी अरब की पेट्रोलियम कंपनी अरैमको प्रथम सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने के लिए पूरी तरह से तैयार है। कंपनी के सीईओ ने कहा कि आईपीओ लाने का समय हालांकि   सरकार तय करेगी। यह आईपीओ दो चरणों में आएगा। आमिन नासिर ने वर्ल्ड एनर्जी कांग्रेस के इतर कहा कि कंपनी बड़े पैमाने पर शेयर बाजार में प्रवेश करने के लिए तैयार है,  लेकिन समय का फैसला सरकार करेगी। एजेंसी की खबरों के मुताबिक नासिर ने कहा कि इस आईपीओ के तहत कंपनी के शेयर मुख्यत: स्थानीय बाजार में सूचीबद्ध होंगे, लेकिन  हम विदेशी बाजार में लिस्टिंग के लिए भी तैयार हैं। पिछले सप्ताह वाल स्ट्रीट जर्नल ने कहा था कि अरैमको स्थानीय शेयर बाजार में पहली बार सूचीबद्ध होगी और इसके बाद वह   विदेशी बाजार में भीसूचीबद्ध होगी। यह विदेशी बाजार संभवत: टोक्यो का शेयर बाजार हो सकता है। अरैमको ने कहा है कि वह 2020 या 2021 में सरकारी कंपनी के पांच फीसदी   शेयरों की लिस्टिंग करना चाहती है। यह दुनिया का सबसे बड़ा शेयर सेल हो सकता है। यह आईपीओ सऊदी अरब के शासक क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान के सुधार कार्यक्रम का एक अहम हिस्सा है। सुधार कार्यक्रम के तहत पेट्रोलियम तेल पर सऊदी अर्थव्यवस्था की निर्भरता कम करने की योजना है। कंपनी अपने दो लाख करोड़ डॉलर मूल्य के आधार   पर 100 अरब डॉलर तक इस आईपीओ से जुटाना चाहती है। निवेशक हालांकि कंपनी के इस मूल्य पर सवाल उठाते रहे हैं। अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ अलीबाबा के नाम है।  कंपनी 2014 में न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट हुई थी। कंपनी का यह आईपीओ 25 अरब डॉलर का था। दूसरा सबसे बड़ा आईपीओ एग्रीकल्चर बैंक ऑफ चाइना का था। बैंक  22.1 अरब डॉलर के आईपीओ के साथ 2010 में सूचीबद्ध हुआ था। तीसरा सबसे बड़ा आईपीओ इंडस्ट्रियल एंड कॉमर्शियल बैंक ऑफ चाइना का था। 2006 का यह आईपीओ 21.9  अरब डॉलर का था। चौथा सबसे बड़ा आईपीओ जनरल मोटर्स का था। 2010 का यह आईपीओ 20.1 अरब डॉलर का था। पांचवां सबसे बड़ा आईपीओ एनटीटी डोकोमो का था। 1998  का यह आईपीओ 18.4 अरब डॉलर का था।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget