जर्जर ब्रिजों का जल्द होगा पुनर्निर्माण

old bridge
मुंबई
हिमालय पुल दुर्घटना के बाद ब्रिजों का स्ट्रक्चरल ऑडिट किया गया, जिसमें जर्जर पुलों का तत्काल पुनर्निर्माण करने का निर्णय लिया गया। पूर्व और पश्चिम उपनगर के पुलों को  तोड़कर दोबारा निर्माण करने का निर्णय लिया गया उनमें सात पुलों का समावेश है। पुलों के निर्माण पर मनपा 95 करोड़ 42 लाख रुपए खर्च करेगी। सभी पुलों का निर्माण अगले  आठ महीने में करने का निर्णय लिया है। उल्लेखनीय है कि अंधेरी रेलवे स्टेशन का गोखले ब्रिज दुर्घटना के बाद पुलों का स्ट्रक्चरल ऑडिट करने का निर्णय लिया गया था। लेकिन  सीएसएमटी का हिमालय ब्रिज गिरने के बाद मनपा पुलों के जर्जर को लेकर अधिक कठोर हो गई। हिमालय ब्रिज दुर्घटना के बाद मनपा ने दोबारा ऑडिट हुए सभी ब्रिजों का ऑडिट  किया। बता दें कि हिमालय ब्रिज को जर्जर न बताकर मात्र मरम्मत की जरूरत बताई गई थी, लेकिन यह ब्रिज 14 मार्च को गिर गया, जिसमें छह लोगों की मौत हो गई थी। मनपा ने इस दुर्घटना के बाद सभी ब्रिजों को दोबारा स्ट्रक्चरल ऑडिट करने का निर्णय लिया। जिसके बाद जर्जर मिले ब्रिजों को तत्काल तोड़कर दोबारा निर्माण करने का निर्णय लिया गया।  स्ट्रक्चरल ऑडिट में अति जर्जर पाए गए ब्रिजों का पुनर्निर्माण करने में मुंबई के पूर्व उपनगर और पश्चिम उपनगर के आठ ब्रिज थे। पुलों के निर्माण की डिजाइन बनकर तैयार है।  ट्रैफिक विभाग की अनुमति मिलते ही सभी ब्रिजों का पुनर्निर्माण शुरू किया जाएगा। इन ब्रिजों के निर्माण पर मनपा 95 करोड़ 42 लाख 22 हजार रुपए खर्च करेगी। सभी ब्रिजों को  आठ महीने में तैयार करने का निर्देश मनपा ने ठेकेदार को दिया है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget