आर्थिक सुस्ती के बीच कोल इंडिया करेगा हजारों लोगों को हायर!

coal india
नई दिल्ली
जब अर्थव्यवस्था में सुस्ती की वजह से कई क्षेत्रों में या तो नौकरियां नहीं निकाल सकती है या फिर बड़े पैमाने पर ए्पलॉयज की छंटनी की जा रही है। ऐसे समय में कोल इंडिया   ट्रेंड से बिल्कुल उलट चल रही है। कोल इंडिया कुल 9,000 हजार लोगों की भर्ती की योजना बना रही है। उन 9,000 में से 4,000 लोग एग्जिक्यूटिव काडर में होंगे। एक दशक में   कोल इंडिया की यह सबसे बड़ी भर्ती मुहिम होगी। कंपनी के एक अधिकारी ने बताया कि कोल इंडिया के 400 एग्जिक्यूटिव में से 900 की नियुक्ति जूनियर कैटेगरी में विज्ञापन और   इंटरव्यू के जरिए होगी। बाकी के 400 लोगों की नियुक्ति कैंपस सलेक्शन के जरिए होगी। 100 एग्जिक्यूटिव की नियुक्ति मेडिकल स्टॉफ के तौर पर होगी।

कंपनी की सब्सिडियरी कंपनियां में होगी नियुक्ति
अधिकारी ने बताया कि कंपनी ने पहले ही 400 एग्जिक्यूटिव की हायरिंग कर ली है जिनमें ज्यादातर डॉक्टर हैं। बाकी के 75 की नियुक्ति भी हो गई है और जल्दी ही वे ज्वाइन  करेंगे। बाकी के 2200 लोगों की नियुक्ति कंपनी परीक्षा के जरिए करेगी। कंपनी की सब्सिडियरी कंपनियां 5000 वर्कर्स और टेक्निकल कामगारों की नियुक्ति करेगी। 2300 नौकरियां  उन लोगों को दी जाएंगी जिनकी जमीन का अधिग्रहण कंपनी ने अपनी परियोजनाओं के लिए किया था। 2350 नौकरियां उन परिवार के सदस्यों को दी जाएगी जिनकी मौत ड्यूटी पर  हो गई थी। इसके साथ ही 400 नॉन टेक्निकल पोस्ट्स पर भी हायरिंग होगी।

पिछले एक दशक की सबसे बड़ी हायरिंग
एक खबर के मुताबिक, किसी सरकारी कंपनी की तरफ से की जाने वाली पिछले एक दशक की यह सबसे बड़ी हायरिंग है। एग्जिक्यूटिव लेवल की हायरिंग कोल इंडिया करेगी जबकि  वर्कर्स और टेक्निकल एंप्लॉईज की हायरिंग कोल इंडिया की सब्सिडियरी कंपनियां करेंगी। कोल इंडिया के एक एग्जिक्यूटिव ने कहा कि कोल इंडिया अपनी सभी खाली पदों को भरने  के लिए हायरिंग कर रही है। यह पिछले एक दशक की सबसे बड़ी हायरिंग है। पिछले साल कंपनी ने 1200 लोगों की नियुक्ति की थी। कोल इंडिया दुनिया की सबसे बड़ी कोयला  उत्पादक कंपनी है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget