नए विचारोंसे नया भारत जोड़ो

मुंबई
राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने युवाओं को अशिक्षा, असंस्कार, अनाचार छोड़ो, नए विचारों से नया भारत जोड़ो का मूलमंत्र दिया। उन्होंने कहा कि वर्तमान में विश्वस्तर पर  आर्थिक मंदी है, लेकिन देश में स्थिति उत्तम है। आने वाले तीन से छह महीने में देश आर्थिक प्रगति में फिर से आगे आएगा। लगभग पांच हजार विद्यार्थियों के सामने उन्होंने देश   की युवा पीढ़ी की ओर से व्यक्त की गई अपेक्षाओं पर बातचीत की। साथ ही विद्यार्थियों द्वारा पूछे गए सवालों के दिल खोलकर जवाब दिया। कार्यक्रम की शुरुआत में उन्होंने   सुप्रसिद्ध गायक लुईस के साथ राष्ट्रगीत गाया तथा अंत में राष्ट्र विजयी हो हमारा कविता प्रस्तुत कर विद्यार्थियों का मन मोह लिया। आईआईएमयूएन (इंडियाज इंटरनेशनल मूमेंट टू   युनाइट नेशंस) द्वारा आयोजित इंडियाज इंटरनेशनल मूवमेंट फॉर युनाइट नेशंस कार्यक्रम में वे बोल रहे थे। इस संस्था के संस्थापक ऋषभ शहा इस समय उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने   कहा कि भारतीय संस्कृति सबको साथ में लेकर चलने की है। वसुधैव कुटुंबकम हमारी संस्कृति है। स्वामी विवेकानंद ने शिकागो में किए अपने सुप्रसिद्ध भाषण में इसी की महत्ता  बताई थी। यही विचार युवाओं द्वारा विश्व में फैलाने के लिए यह मंच उपयोगी साबित होगा। हमारे देश में इस समय युवाओं की जनसंक्या सर्वाधिक है। इस युवा जनसंक्या का  उपयोग मानव संसाधन के रूप में करना आवश्यक है। इससे पहले यूरोप, जापान, कोरिया और चीन आदि देशों को उनके देश के युवाओं की जनसंक्या का लाभ लेना संभव हुआ है।   अपना देश पांच ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था की ओर जा रहा है। इसमें राज्य द्वारा एक ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था का लक्ष्य रखा है। इसमें मुंबई की बड़ी भूमिका होगी। यह करते  समय राज्य के 40 हजार गांवों में विकास करना है। ग्रामीण अर्थव्यवस्था का मजबूती से यह संभव होगा। इसके लिए कौशल्य प्रशिक्षण भी आवश्यक होगा। विद्यार्थियों द्वारा  विभिन्न विषयों पर पूछे सभी सवालों के जवाब भी सीएम फड़नवीस ने दिए। भारत में आए कुछ लोगों की नागरिकता रद्द किए जाने के संदर्भ में एक छात्रा ने सवाल पूछा। इसके  उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकृत रूप में प्रवेश लेकर आने वाले नागरिकों का देश में हमेशा स्वागत करते है, लेकिन अनधिकृत तरीके से देश में आकर देश विघातक कृत्य  करने वाले के लिए देश में कोई जगह नहीं है। विश्व भर में आर्थिक मंदी आई है। ऐसी स्थिति में युवाओं ने मुख्यमंत्री की राय जाननी चाही। इसके उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि   देश और राज्य ने उद्योग स्नेही नीति तय की है। नई और व्यापक कर प्रणाली कार्यान्वित की गई है। बैंक सॉल्वेंसी प्रणाली में सुधार कर उसमें आने वाली दिक्कतें दूर करने के  साथ-साथ पारदर्शकता लाने पर जोर दिया है। इसलिए राज्य में आर्थिक परिस्थिति काबू में है। उन्होंने विश्वास जताया कि आने वाले तीन से छह महीने में देश आर्थिक क्षेत्र में फिर से उड़ान भरेगा।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget