16 अक्टूबर को डाले जाएंगे वोट

पटना
राष्ट्रीय जनता दल के राज्यसभा सदस्य राम जेठमलानीके असामयिक निधन से बिहार में खाली हुई राज्यसभा सीट के लिए एनडीए में इस बात पर लगभग सहमति बन गई है कि भाजपा का  उम्मीदवार होगा। बताया जा रहा है कि इसके तहत नाम भी तय कर लिया गया है। सूत्रों से खबर है कि वाल्मिकीनगर से पूर्व सांसद और भाजपा नेता सतीश चंद्र दुबे भाजपा के उम्मीदवार हो  सकते हैं। हालांकि अभी भी कई और नाम रेस में हैं। इस बीच सूत्रों से ये भी खबर है कि भाजपा ने सतीश चंद्र दुबे को निर्देश दिया है कि वह बिहार से बाहर ना जाएं। माना जा रहा है कि  नका  नाम तय है और शुक्रवार को औपचारिक घोषणा होगी। खबर यह भी है कि शुक्रवार की सुबह एनडीए की बैठक होगी और बैठक में ही तय होगा कि राज्यसभा की सीट किसके पास जाएगी और कौन उम्मीदवार होगा।
गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के बाद रविशंकर प्रसाद की छोड़ी गई सीट पर भारतीय जनता पार्टी ने अपने कोटे से लोक जन शक्ति पार्टी के अध्यक्ष रामविलास पासवान को उम्मीदवार बनाया    और उन्होंने जीत भी हासिल की थी। भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन, भाजपा में ही संगठन का काम देख रहे राजेंद्र सिंह और जेडीयू नेता सैयद महमूद अशरफ का नाम की भी चर्चा चल रही थी,  लेकिन अभी जो जानकारी सामने आई है इसके अनुसार सतीश चंद्र दुबे के नाम पर लगभग सहमति बनने की खबर है। हालांकि इस रेस में सम्राट चौधरी और देवेश चंद्र ठाकुर का भी नाम अब भी चर्चा में है।
राज्य की एक राज्यसभा सीट पर उप चुनाव कराने के  लिए चुनाव आयोग ने 16 अक्टूबर का तिथि घोषित की है। इसके लिए नामांकन का अंतिम दिन शुक्रवार  यानि चार अक्टूबर को निर्धारित  है। बता दें कि कि बिहार में जो समीकरण बन रहे हैं इसके अनुसार विधानसभा की संख्या बल के आधार पर एनडीए का उम्मीदवार आसानी से चुनाव जीत जाएगा। वहीं, राष्ट्रीय जनता दल ने  संकेत दिया है कि उसकी ओर से कोई उम्मीदवार नहीं होगा। गौरतलब है कि बिहार से राज्यसभा के लिए राजद से चुने गए राम जेठमलानी का कार्यकाल वर्ष 2022 में खत्म होना था, लेकिन  हाल ही में उनका निधन हो गया। लिहाजा इस सीट से जो भी नेता राज्यसभा के लिए चुना जाएगा, उसका कार्यकाल तकरीबन तीन साल का ही होगा।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget