एयर फोर्स डे : पायलटों ने वही सुखोई-30 विमान उड़ाया, जिसे पाकिस्तान ने मार गिराने का दावा किया था

Airforce day
नई दिल्ली
वायुसेना ने मंगलवार को अपना 87वां स्थापना दिवस बनाया। इस दौरान गाजियाबाद के हिंडन एयर बेस पर हुए एयर शो में तीन मिराज 2000 और दो सुखोई-30 एमकेआई  फाइटर एयरक्राफ्ट भी शामिल हुए। इनमें एक वही सुखोई- 30 एमकेआई (एवेंजर-1) था, जिसे पाकिस्तान ने इसी साल 26 फरवरी को हुई बालाकोट एयरस्ट्राइक के अगले दिन मार  राने का दावा किया था। इस तरह भारत ने पाकिस्तान के दावे को बेनकाब किया।
वायुसेना ने कहा कि पाकिस्तान का सुखोई-30 एमकेआई मार गिराने का दावा झूठा था। सच तो यह है कि विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान के अमेरिका में बने एफ-16 लड़ाकू  मान को मार गिराया था। अभिनंदन ने यह कारनामा रूस में बने मिग-21 बायसन लड़ाकू विमान से किया था। उन्हें इसके लिए वीर चक्र से भी सम्मानित किया गया।

अभिनंदन ने पाकिस्तान का एफ-16 प्लेन मार गिराया था
26 फरवरी को वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी संगठन जैश- ए-मोहम्मद के कैंपों पर बम गिराए थे। इसके अगले दिन सुबह पाकिस्तान ने 24 विमानों की फॉर्मेशन से  हमला बोला था, जिसे भारत ने खदेड़ दिया था। तब मिग-21 उड़ा रहे विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तानी लड़ाकू विमान एफ-16 का पीछा करते हुए पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर  पीओके) में चले गए थे। वहां उन्हें पाक सेना ने पकड़ लिया था। जिन्हें बाद में रिहा कर दिया था।

एयरस्ट्राइक में शामिल जवानों को कोई नहीं भूल सकता
वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने कहा, इस साल के शुरुआत में हुई बालाकोट एयरस्ट्राइक में कमांड, स्टेशनों और यूनिट्स के कर्मियों के योगदान का सम्मान  रते हैं। सभी ने पेशेवर तरीके से चुपचाप अपने काम को अंजाम दिया। इसे कोई नहीं भूल सकता।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget