महायुति में आरपीआई को छह सीट

रामदास आठवले का दावा

मुंबई
रिपफ्लिकन पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री रामदास आठवले ने दावा किया कि महायुति में आरपीआई के लिए 6 सीट छोड़ी गई है। बांद्रा स्थित  संविधान बंगले पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में आठवले ने कहा कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल से पिछले तीन दिन तक चली चर्चा के बाद  बुधवार को अंतिम निर्णय लिया और भाजपा-शिवसेना महायुति के घटक दल के रूप में आरपीआई के लिए 6 सीटें छोड़ी गईं। इन सीटों में सातारा जिले की फलटण, सोलापुर की  मालशिरस, विदर्भ की भंडारा, नांदेड जिले की नायगांव, परभणी जिले की पाथरी सहित मुंबई की मानखुर्द-शिवाजीनगर शामिल है। हालांकि मानखुर्द- शिवाजीनगर सीट शिवसेना कोटे  की है। इस पर आठवले ने कहा कि सामाजिक दृष्टि को ध्यान में रखते हुए शिवसेना को यह सीट आरपीआई के लिए छोड़नी चाहिए। सेना ने यहां से विठ्ठल लोकरे को टिकट दिया  है। मानखुर्द शिवाजी नगर सीट से शिवसेना प्रत्याशी की उम्मीदवारी वापस लेने के बारे में मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस और शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे से चर्चा की जाएगी।  आठवले ने कहा कि आरपीआई मुंबई के अध्यक्ष गौतम सोनवणे मानखुर्द शिवाजीनगर सीट से पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार हैं। 
आठवले ने कहा कि मालशिरस सीट आरपीआई के लिए छोड़ी गई है, ऐसे में इस सीट पर उम्मीदवार तय करने का निर्णय विजय सिंह मोहित पाटिल करेंगे। अगर वे मालशिरस पर  उम्मीदवार तय नहीं कर पाए तो मालशिरस की जगह बदलकर पुणे कंटोमेंट सीट देने का सुझाव मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस को दिया गया है। आरपीआई के चार उम्मीदवार घोषित  आरपीआई ने चार सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम भी घोषित कर दिए हैं। मुंबई की मानखुर्द शिवाजी नगर सीट से आरपीआई मुंबई के अध्यक्ष गौतम सोनवणे, फलटण से डॉन  छोटा राजन के भाई दीपक निकालजे, पाथरी से मोहन फड और नायगांव से राजेश पवार चुनाव लड़ेंगे।
खोत, विनायक मेटे को 4-4, रासप को 2 सीटें महायुति के अन्य घटक दल विनायक मेटे के शिवसंग्राम पक्ष को 4 तथा सदाभाऊ खोत के रयत क्रांति पक्ष को 4 सीट मिलने की संभावना है। सूत्रों के अनुसार इन दोनों दलों के प्रत्याशी कमल चुनाव चिन्ह पर मैदान में उतरेंगे। शिवसंग्राम को वर्सोवा, नांदेड की किनवट और बुलढाणा की चिखली सीट के अलावा  अन्य सीट मिल सकती है। रयत क्रांति पक्ष के साथ तीन सीट फाइनल हो चुकी है, एक पर बातचीत जारी है। महादेव जानकर की पार्टी राष्ट्रीय समाज पक्ष (रासप) को 2 सीट मिली  है। सूत्रों के अनुसार रासप अपने चुनाव चिन्ह पर मैदान में उतरेगी। रासप को पुणे के पास दौंड तथा परभणी जिले की जिंतूर सीट मिलने की संभावना है। दौंड के वर्तमान विधायक  राहुल कुल रासप के हैं और उन्हें दोबारा टिकट मिलने की संभावना है।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget