बदलेगी किसानों की किस्मत

सरकार ने लांच कि योजना

Farmer
नई दिल्ली
अगर आप युवा हैं और को-ऑपरेटिव सोसाइटी बना कर सोशल एंटरप्रेन्योरशिप में हाथ आजमाना चाहते हैं तो आपके लिए खुशखबरी है। सरकार एग्री को-ऑपरेटिव्स के लिए नई  योजना लेकर आ रही है। इस योजना का नाम 'युवा सहकार योजना' होगा। इस योजना की शुरुआत कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शुक्रवार को प्रगति मैदान में लगने वाले इंडिया  इंटरनेशनल को-ऑपरेटिव ट्रेड फेयर में किया। चीन की तर्ज पर किसान सहकारिता से गांवों में अर्थक्रांति लाने के लिए मोदी सरकार 100 करोड़ रुपए के बजट के साथ युवा-सहकार  नाम से एक नवाचारी योजना शुरू कर रही है। खास बात ये है कि शुक्रवार से ही चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी दो दिवसीय भारत दौरे पर हैं, जिसमें भारत और चीन के बीच  कई अहम समझौते होने की उम्मीद की जा रही है। भारत सरकार की स्टार्टअप और स्टैंडअप इंडिया कार्यक्रमों की तरह युवाओं को ध्यान में रखकर राष्ट्रीय सहकारिता विकास निगम  (एनसीडीसी) ने युवा सहकार सहकारी उद्यम सहायता व नवाचारी योजना-2019 की परिकल्पना की है। इस योजना का मकसद सहकारिता क्षेत्र को मजबूत बनाना है। इस योजना के  तहत युवाओं को अपना उद्योग शुरू करने के लिए सरकार की ओर से बेहद कम ब्याज दर पर कर्ज दिया जाएगा।

इन संस्थाओं को मिलेगी प्राथमिकता 
मंत्रालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक, सरकार की इस योजना में देश के पूर्वोत्तर इलाके के सहकारी संस्थाओं के साथ-साथ नीति आयोग द्वारा चिन्हित आकांक्षी जिलों में  पंजीकृत सहकारी और शतप्रतिशत महिला, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और शारीरिक रूप से अशक्त सदस्य वाले सहकारिता को विशेष प्रमुखता दी जाएगी। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि हमारे 94 प्रतिशत किसान कम से कम एक सहकारिता संस्थान के सदस्य हैं। सहकारिता क्षेत्र में कृषि निर्यात को मौजूदा 30 अरब डॉलर से 2022 तक  60 अरब डॉलर तक पहुंचाने की क्षमता है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget