राम मंदिर पर सभी को मानना चाहिए उच्चतम न्यायालय का फैसला : सीएम

गोरखपुर
 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राम मंदिर पर हम उच्चतम न्यायालय का अभिनंदन करेंगें। उनके फैसले को सभी को मानना चाहिए। सैकड़ों सालों से चल रहे एक विवाद का पटाक्षेप  होना चाहिए। न्यायालय ने प्रत्येक नागरिक के मन में विश्वास पैदा किया है। बता दें कि दो दिन पूर्व गोरखपुर में मोरारी बापू की कथा में बिना राम जन्म भूमि का नाम लिए कहा था कि शीघ्र  ही भगवान राम पर खुशखबरी आने वाली है। योगी के इस बयान के बाद राजनीतिक हलकों में हलचल बढ़ गई थी। उस बयान पर सफाई देते हुए सीएम ने कहा कि मेरा आशय वहां आयोजित  होने वाले दीपोत्सव के कार्यक्रम को लेकर था। योगी आदित्यनाथ सोमवार को गोरखनाथ मंदिर में कन्या पूजन और भोज के बाद उपस्थित लोगों का संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि  आज नवमी तिथि है। सनातन धर्म में दो बार नवरात्र पूजा का अवसर मिलता हैं। नारी सशक्तिकरण और सम्मान व्यक्त करने का इससे अच्छा कोई पर्व नहीं हैं। अभी कुमारी कन्याओं के पूजन  और सहभोज का आयोजन हुआ है।
अयोध्या पर विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष सिर्फ नकारात्मक राजनीति करता है, उसे विकास और जनकल्याणकारी कार्यों से कोई  लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा कि  सैकड़ों वर्षों से चले आ रहे राम मंदिर विवाद को खत्म किया जाना चाहिए। इसके लिए न्यायालय लगातार सुनवाई कर रहा है। न्यायालय के फैसले का सभी सम्मान करेंगे। मुख्यमंत्री ने राम  दिर पर बोलते हुए कहा कि पिछले तीन साल से हम अयोध्या में दीपोत्सव कर रहे हैं। अयोध्या को उसका वैभव मिले, इसलिए अनेक कार्यक्रम कर रहे हैं। कई देशों से रामलीलाओं का मंचन  करने वाली टीम वहां आती हैं। 26 अक्टूबर को दीपावली में अयोध्या में हम 5 लाख 51 हजार दीपों को जलाएंगे। अयोध्या विकास कीप्रक्रिया से ढ़ाई साल में जुड़ा है।
अयोध्या वासियों के लिए  यह खुशखबरी है कि हर  घर इस दीपोत्सव के आयोजन से जुड़ेगा। अलग-अलग देशों के रामलीला का मंचन वहां होना है। उन्होंने कहा कि इस महीने प्रदेश में मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना  शुरू  करने जा रहे हैं, जिसमें सभी बेटियों से संबंधित योजना को जोड़ा जाएगा। इसमें सभी बेटियों को 15 हजार की राशि कन्या सुमंगल योजना में देंगे। केंद्र और प्रदेश सरकार नारी सुरक्षा और  गरिमा के लिए कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है। उन्होंने कहा कि हम जानते हैं कि नारी शक्ति की गरिमा और सम्मान क्या है। यही कारण है कि उनके लिए 'बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ'  अभियान चलाया गया है, जिसके अच्छे परिणाम आये हैं। स्वच्छ भारत अभियान नारी गरिमा का प्रतीक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार ने ढ़ाई साल से स्कूल चलो अभियान चलाया हुआ है, ताकि कोई बालिका स्कूल जाने से वंचित न रहे। इस अभियान के तहत 50 लाख बच्चों के नए नामांकन हुए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 91 हजार स्कूलों को  स्मार्ट क्लास से जोड़ा गया है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने गांधी जयंती पर 36 घंटे विधानसभा चलाई, ताकि बापू के विचारों पर चर्चा हो सके।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget