एफएटीएफ में आज पाक के भविष्य का फैसल

पेरिस
टेरर फंडिंग और मनी लांड्रिंग पर नजर रखने वाली अंतर्राष्ट्रीय संस्था फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की बैठक रविवार से पेरिस में शुरू हुई। पाकिस्तान पर फ्लैक  लिस्ट होने का खतरा है। इससे बचने के लिए उसे समिति के सामने साबित करना होगा कि उसने टेरर फंडिंग में लिप्त लोगों पर कार्रवाई की है। एफएटीएफ की बैठक 18 अक्टूबर  तक चलेगी। इसमें पाकिस्तान के आर्थिक मामलों के मंत्री हम्माद अजहर मौजूद रहेंगे। एफएटीएफ ने जून 2018 में पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में डाल दिया था। साथ ही फ्लैक लिस्ट  से खुद को बचाने के लिए 27 सूत्रीय एक्शन प्लान सौंपा था। अगर संस्था को लगता है कि पाकिस्तान ने एक्शन प्लान को सही तरीके से लागू नहीं किया है तो उसे फ्लैक लिस्ट में  डाल दिया जाएगा। इससे पहले अगस्त में ऑस्ट्रेलिया के कैनबरा में हुई बैठक में एफएटीएफ से जुड़े एशिया पैसिफिक जॉइंट ग्रुप (एपीजेजी) ने मानकों को पूरा नहीं करने पर  पाकिस्तान को इनहेन्स्ड एक्सपीडिएट फॉलोअप लिस्ट में डाल दिया था। ग्रुप के मुताबिक, पाकिस्तान आतंकियों की वित्तीय मदद और मनी लांड्रिंग के 40 में से 32 मानकों का  पालन नहीं कर रहा है। सूत्रों का दावा है कि पिछले महीने बैंकॉक में एपीजेजी की बैठक में पाकिस्तान ने अपनी वित्तीय स्थिति के आंकड़े और वित्तीय रिपोर्ट लिखित में मुहैया  करवाई थी। वहीं, भारतीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बैंकॉक में बैठक के बाद से पाकिस्तान तनाव में है। इस बैठक में वह एफएटीएफ के 27 में से केवल 6 मानकों पर ही खरा  उतरा था।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget