Babari Masjid
नई दिल्ली
अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट आज ऐतिहासिक फैसला देने जा रहा है। पांच जजों की पीठ आज सुबह 10.30 बजे अपना निर्णय सुनाएगी। पहले अटकलें थीं कि यह फैसला 12  नवंबर के बाद आ सकता है। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर होने वाले हैं। इससे पहले वह अपना फैसला सुनाएंगे। शनिवार को छुट्टी के दिन के बावजूद सुप्रीम  कोर्ट की संवैधानिक पीठ बैठेगी और फैसला सुनाएगी। इसके मद्देनजर पूरे देश में सुरक्षा के चाक चौबंद प्रबंध किए गए हैं। धर्मगुरुओं ने भी शांति बनाए रखने की अपील की है।

यूपी में स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद
फैसले के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के सभी स्कूल, कॉलेज, शिक्षण संस्थाएं और ट्रेनिंग सेंटर 9 से 11 नवंबर तक बंद रहेंगे।

इतिहास की दूसरी सबसे लंबी सुनवाई
सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में दूसरी सबसे लंबी सुनवाई हुई। संवैधानिक पीठ ने लगातार 40 दिनों तक सुनवाई की और 16 अक्टूबर को अपना फैसला सुरक्षित रखा। इस दौरान हिंदू  और मुस्लिम पक्षकारों ने अपने-अपने पक्ष में दमदार दलीलें दीं।

सुरक्षा व्यवस्था सख्त
फैसला आते ही प्रदेश में मोबाइल इंटरनेट सेवा भी बंद हो सकती है। इसके अलावा धारा 144 लगाए जाने के साथ सभी जिलों में अस्थायी जेलें बनाई गई हैं। केंद्र सरकार ने सभी   राज्यों को अतिरिक्त सतर्कता बरतने औरकानून-व्यवस्था की स्थिति पर कड़ी नजर बनाए रखने को कहा है। इसके साथ ही अर्धसैनिक बल के 4,000 जवानों को ऐहतियातन उत्तर   प्रदेश भेजा गया है। दूसरी ओर, आरपीएफ ने भी अपने सभी कर्मियों की छुट्टी रद्द कर 78 महत्वपूर्ण स्टेशनों की सुरक्षा-व्यवस्था का अलर्ट जारी किया है।

ये जज सुनाएंगे फैसला
अयोध्या विवाद में मामले की सुनवाई करने वाली संवैधानिक बेंच में सीजेआई रंजन गोगोई के अलावा जस्टिस शरद अरविंद बोबडे, जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस डी. वाई. चंद्रचूड़   और जस्टिस एस. अम्दुल नजीर शामिल हैं। इन्हीं जजों की पीठ आज फैसला सुनाएगी।

पीएम की अपील
अयोध्या पर आज आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विट के माध्यम से देशवासियों से अपील की है कि आज जो भी फैसला आएगा, उसमें किसी की हार  या जीत नहीं है। इसलिए देशवासी शांति एवं सद्भावना का माहौल बनाए रखें। पिछले कुछ महीनों से सुप्रीम कोर्ट में निरंतर इस विषय पर सुनवाई हो रही थी, पूरा देश उत्सुकता से   देख रहा था। इस दौरान समाज के सभी वर्गों की तरफ से सद्भावना का वातावरण बनाए रखने के लिए किए गए प्रयास बहुत सराहनीय हैं।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget