अयोध्या फैसले के बाद मुंबई में धारा 144 लागू

CRPF
मुंबई
अयोध्या राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद को लेकर आए फैसले के बाद मुंबई और उपनगर में धारा 144 लागू कर दी गई है। शनिवार की सुबह ग्यारह बजे से यह आदेश लागू   किया गया है। इस आदेश के अनुसार एक जगह पर पांच या उससे अधिक लोगों को एक जगह आने की मनाही होती है। इस दौरान धार्मिक स्थलों के साथ-साथ जिन जगहों पर  धार्मिक झगड़े होने की आशंका है, वहां पर पुलिस बंदोबस्त बढ़ा दिया गया है। पुलिस सोशल नेटवर्किंग साइट पर भी निगाहें जमाए हुए है, जिसके तहत सोशल साइट पर चलने वाले   सभी बयानों पर पुलिस की कड़ी नजर है। इसके अलावा किसी भी अफवाहों पर ध्यान न देने का आवाहन पुलिस ने किया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक मुंबई में शनिवार की सुबह  से निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। अयोध्या में हुई घटना के बाद मुंबई में शुरू हुए जातीय दंगा मामले के आरोपियों का अभी की स्थिति का जायजा लेने के लिए पुलिस को कहा गया  है। नाकाबंदी, बस्तियों में पुलिस की गश्ती के साथ मोहल्ला कमेटी, उत्सव मंडल, जनता के प्रतिनिधि, समाजसेवकों की बैठक कर सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए आदेश का  स्वागत करने का आवाहन किया गया है। हालांकि लोगों से यह भी कहा गया है कि स्वागत के लिए किसी भी प्रकार की शोभा यात्रा न निकालें। इसके अलावा जातीय विवाद निर्माण  हो ऐसा कोई भी कदम न उठाएं। अयोध्या मामले में आए निर्णय के बाद सोशल मीडिया पर होने वाली बयानबाजी की वजह से कानून और व्यवस्था बिगड़ सकती है। इसी वजह से किसी भी प्रकार सोसल मीडिया के जरिए किसी तरह की बयानबाजी न करने का आवाहन किया गया है। इसके साथ ही यह भी कहा गया है कि सोशल मीडिया पर ऐसे फोटो और  वीडियो को पोस्ट न करें, जिससे लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचे। पुलिस द्वारा किए गए आवाहन के बाद कई वाट्सअप एडमिन ने सेटिंग बदलकर ऑनली एडमिन कर दी  है। इसके अलावा कइयों ने ग्रुप में किसी भी प्रकार का मैसेज न डालने का आवाहन भी किया है।

ईद पर पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद
सोमवार को मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में ईद-ए-मिलाद का त्योहार मनाया जानेवाला है, जिसमें मुस्लिम भाई और बहन बड़ी संख्या में शरीक होते हैं। ईद-ए-मिलाद शांति से पूर्ण हो  इसलिए मुंबई में कुल 40 हजार से भी अधिक संख्या में कर्मचारियों को तैनात किया गया है। इसमें राज्य सुरक्षित पुलिस बल, दंगा नियंत्रण पथक, शसस्त्र दल, क्वीक रिस्पांस टीम,  विशेष शाखा और अपराध शाखा के लोग शामिल हैं। इसके अलावा पुलिस ने बंदोबस्त के लिए 1650 होमगार्ड भी तैनात किए गए हैं। महत्वपूर्ण स्थानों जैसे खिलाफत हाउस के साथ  अन्य स्थानोंसे निकलने वाली शोभा यात्रा पर पुलिस सीसीटीवी और ड्रोन से नजर रखेगी, ताकि किसी भी प्रकार की अनहोनी न होने पाए। इसके अलावा ट्रैफिक पुलिस भी सड़कों पर  नजर आएगी। इस दौरान सामानों के साथ किसी के संदिग्ध अवस्था में दिखाई देने पर इसकी जानकारी ट्विटर, 100 नंबर और 7738133133, 7738144144 पर एसएमएस द्वारा नागरिक भेज सकते हैं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget