मनपा ने अक्टूबर आखिर तक हटाए 21699 बैनर

Hordings
मुंबई
मनपा प्रशासन ने इस साल अक्टूबर अंत तक कुल 21 हजार 699 बैनर-पोस्टर हटाए हैं, जिसमें से 61 प्रतिशत बैनर-पोस्टर नेताओं से जुड़े हैं। मुंबई हाईकोर्ट ने अवैध रूप से लगने  वाले बैनर खासकर नेताओं के बैनर पर कठोर कर्रवाई करने का निर्देश दिया हुआ है, बावजूद इसके नेताओं के बैनर सबसे अधिक लगते हैं। मनपा अधिकारियों ने खुद जानकारी दी है  कि अवैध रूप से लगे बैनर पर कार्रवाई के दौरान 61 प्रतिशत नेताओं के बैनर पाए गए। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों दादर में दीवाली के समय लगी अवैध रूप से कंदीलों पर कार्रवाई करने के दौरान स्थानीय मनसे नेता और वार्ड ऑफिसर के बीच जमकर झगड़ा हुआ, जिसमें स्थानीय मनसे नेता संदीप देशपांडे को जेल की भी हवा खानी पड़ी। मनपा के  लाइसेंस विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि मुंबई में अक्टूबर महीने के आखिरी तक कुल 21,699 बैनर और पोस्टर निकाले गए जिसमें से 13220 बैनर नेताओं के थे। इनके   अलावा 2307 कॉमर्शियल और 6172 बैनर धार्मिक संबंधित थे। बता दें कि अवैध बैनर लगाना मुंबई हाईकोर्ट ने पूरी तरह से बैन किया है। मनपा प्रशासन अभी तक बैनर को लेकर  कोई कानून भी नहीं बना पाई है। कोर्ट ने पिछले दिनों भाजपा नगरसेवक रहे मूरजी पटेल को अवैध रूप से बैनर लगाने पर भारी दंड लगाते हुए 25 लाख रुपए का दंड लगाया था।   मूरजी पटेल पर मनपा प्रशासन ने मामला दर्ज किया था। उन पर अवैध रूप से लगे बैनर पर कार्रवाई करने के दौरान मनपा अधिकारियों से मारपीट करने का आरोप लगा था, जिस  पर कोर्ट ने भारी भरकम दंड लगाया था।
कोर्ट ने इसके पहले भी पार्टी अध्यक्षों को फटकार लगाई थी और दंड पार्टी अध्यक्षों को भरने का निर्देश दिया था। अवैध रूप से पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा लगाए जाने वाले बैनर पर  पार्टी पर दंड लगाने का निर्णय लिया गया था, जिसको लेकर पार्टी अध्यक्षों से हलफनामा भी लिया गया था और उसके बाद भी नियम का पालन नहीं करने पर उन पर कार्रवाई भी  की गई थी। इसके बावजूद अवैध रूप से नेताओं की लगने वाली होर्डिंग और बैनर को लेकर आए दिन नेताओं एवं मनपा अधिकारियों के बीच झगड़े होते दिखाई देते हैं।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget