आईआरसीटीसी ने 47 प्राइवेट केटरिंग प्रोवाईडर्स को भेजा नोटिस

IRCTC
नई दिल्ली
आईआरसीटीसी ने ट्रेनों में केटरिंग सर्विस देने वाले 47 निजी केटरर्स को नोटिस भेजा है। आईआरसीटीसी ने उन्हें ट्रेनों में फूड सर्विस के मानकों में बदलाव लाने के निर्देश देते हुए  कहा है कि तय मानकों से नीचे काम करने वालों को कंपनी नहीं बख्शेगी और अगर लगातार उनका काम बेंचमार्क से नीचे रहा, तो उनका कांट्रैक्ट रद्द कर दिया जाएगा।

24 के कांट्रैक्ट कर दिए रद्द
आईआरसीटीसी की तरफ से जितने केटरिंग सर्विस प्रोवाइडर्स को नोटिस भेजा गया है वे कुल 358 केटरर्स की संख्या का महज 13 फीसदी हैं। इनमें से 24 के कांट्रैक्ट आईआरसीटीसी  पहले ही रद्द कर चुकी है। 23 कांट्रैक्टर्स की परफॉरमेंस पर नजर रखी जा रही है और जांच-परख के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।

खाने की गुणवत्ता बढ़ाने के उपाय कर रहा आईआरसीटीसी
आईआरसीटीसी ने अपने केटरिंग सुपरवाईजर और असिसटेंट्स को अधिकतर पैसेंजर ट्रेनों में तैनात किया है, जिससे वे केटरिंग सर्विस का निरीक्षण कर सकें और रियल टाइम में  ग्राहकों की परेशानियों का निदान भी कर सकें। कंपनी ने खाने की गुणवत्ता और यूनिट में साफ-सफाई का स्तर जानने के लिए कई ट्रेनों, बेस किचिन और फूड प्लाजा में थर्ड पार्टी  ऑडिटर्स की तरफ से ऑडिट भी कराए हैं। इसके अलावा आईआरसीटीसी यह भी सुनिश्चित कर रहा है कि केटरिंग सर्विस प्रोवाइडर पीओएस मशीन के जरिए बिल दे और भोजन को  बायो- डिग्रेडेबल पैकेजिंग मेटेरियल में सर्व करे।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget