राज्य मे भाजपा ही बनायेगी सरकार

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस का इस्तीफा

Fadanvis resign
मुंबई
मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने दावा किया है कि राज्य में भाजपा के बिना कोई भी सरकार नहीं बन सकती और भाजपा ही सरकार बनाएगी। शुक्रवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी  को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद प्रेस कांफ्रेंस में बोल रहे थे। राज्यपाल ने उन्हें वैकल्पिक व्यवस्था होने तक कार्यवाहक मुख्यमंत्री के रूप में कामकाज देखने को कहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव परिणाम आने के बाद उन्होंने शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे को कई बार फोन किया, लेकिन उन्होंने न तो फोन उठाया और न ही वापस फोन किया।   सीएम ने इस बात से इंकार किया कि ढाई-ढाई साल तक मुख्यमंत्री का फार्मूला तय हुआ था। सीएम ने कहा कि भाजपा-शिवसेना की महायुति अभी टूटी नहीं है। हमारे वरिष्ठ नेताओं   पर टिप्पणी से हमें पीड़ा पहुंची है। यह बात दूर होने के बाद शिवसेना से चर्चा होगी। हम आज भी चर्चा के लिए तैयार हैं। ऐसे में हम मतभेद दूर कर मिलकर सरकार बनाएंगे। उद्धव  ठाकरे की पहली पीसी से लगा धक्का मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा और शिवसेना ने मिलकर चुनाव लड़ा और जनता ने महायुति को पूर्ण बहुमत दिया और भाजपा सबसे बड़े दल के  रूप में उभरी। दुर्भाग्य से जिस दिन चुनाव परिणाम घोषित हुआ और हमें उम्मीद से कम सीटें मिलीं, उसी दिन प्रेस कांफ्रेंस में शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि सरकार  बनाने के लिए हमारे लिए सभी विकल्प खुले हुए हैं। यह बात हमारे लिए धक्कादायक थी, क्योंकि हमने महायुति बनाकर चुनाव लड़ा था, जबकि मैंने पहली प्रेस कांफ्रेस में कहा था  कि हम महायुति की सरकार बनाएंगे।
फड़नवीस ने कहा कि ढाई-ढाई का मुख्यमंत्री का फार्मूला तय नहीं हुआ था। ढाई साल के फार्मूले पर हमारी बातचीत आगे नहीं बढ़ी थी, इसके बाद मेरे सामने एक बार भी इस विषय  पर बातचीत नहीं हुई। 50-50 फार्मूले के तहत ढाई ढाई साल मुख्यमंत्री पद के बंटवारे के बारे में मैंने अमित शाह-नितिन गडकरी से पूछा, तो उन्होंने भी कहा कि हमने ऐसा कोई आश्वासन नहीं दिया था।
सीएम ने कहा कि शिवसेना की ऐसी भूमिका सामने आई है कि हम चर्चा नहीं करेंगे। शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे से मेरे संबंध अच्छे रहे हैं। सीएम ने कहा कि उन्हें कांग्रेस- राकांपा के साथ बातचीत का समय था, लेकिन हमारे साथ चर्चा नहीं कर रहे थे। ऐसे में उनकी मानसिकता तैयार हुई थी कि उन्हें राकांपा-कांग्रेस के साथ जाना है। हालांकि शरद  पवार ने कहा कि भाजपा और शिवसेना को मिलकर सरकार बनानी चाहिए।

पीएम मोदी पर की गई टिप्पणी से आहत
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने पांच साल तक शिवसेना के साथ काम किया है। उद्धव ठाकरे के आसपास के कुछ लोग लगातार बयानबाजी करते हैं। ऐसे बयानों को मीडिया में जगह  मिलती है, लेकिन सरकार नहीं बनती। इस तरह मुख्यमंत्री ने शिवसेना सांसद संजय राऊत का नाम न लेते हुए उन पर टिप्पणी की। फड़नवीस ने कहा कि शिवसेना प्रमुख बाला   साहेब ठाकरे हमारे लिए पूजनीय हैं। उनके खिलाफ भाजपा की तरफ से कोई टिप्पणी नहीं की गई, और न ही भविष्य में की जाएगी, लेकिन शिवसेना ने हमारे नेता और प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी पर घटिया दर्जे की टिप्पणी की। उनके मुखपत्र के माध्यम से और सार्वजनिक रूप से टिप्पणी की गई। केंद्र में मोदी सरकार के साथ रहना है और टिप्पणी भी करनी है,  यह उचित नहीं है। कांग्रेस ने भी कभी भी इतने नीचे गिरकर टिप्पणी नहीं की। सीएम ने कहा कि हमने कभी उत्तर नहीं दिया, जबकि हम भी कड़े शब्दों में उत्तर दे सकते थे।

भाजपा नहीं करती विधायकों की खरीद-फरोख्त
मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग विधायकों की खरीद-फरोख्त की बात कर रहे हैं, उन्हें मैं खुली चुनौती देता हूं कि सबूत लाओ, अन्यथा माफी मांगें। भाजपा कभी तोड़फोड़ की राजनीति   नहीं करती। हमें किसी की जरूरत नहीं होगी। मुझे पूरा विश्वास है कि आने वाले समय में जो भी सरकार बनेगी, वह भाजपा के नेतृत्व में ही बनेगी। सरकार बनने में जो देरी हुई   उसे लेकर मन में पीड़ा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बातचीत बंद करने के लिए 100 फीसदी जिम्मेदारी शिवसेना की है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि बातचीत शुरू होने के  बाद ही राष्ट्रीय नेता बातचीत को आगे बढ़ाने के लिए आगे आते हैं।
उधर, शिवसेना और राकांपा-कांग्रेस बैठकों के जरिए मंथन में जुटी हैं। विधायकों को टूटने से बचाने के लिए शिवसेना ने एक दिन पहले ही गुरुवार को अपने विधायकों को होटल में शिफ्ट कर दिया था। खबर है कि कांग्रेस पार्टी ने अपने अधिकांश विधायकों को जयपुर भेज दिया है। सरकार गठन के लिए समय खत्म होता देखकर शिवसेना नेता संजय राउत शाम 
को शरद पवार के घर पहुंचे।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget