बुलेट ट्रेन परियोजना पकड़ेगी रक्तार

पालघर
पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट हाई स्पीड ट्रेन यानी देश की पहली बुलेट ट्रेन परियोजना अब रफ्तार पकड़ने वाली है, ख्योंकि वसई में जेएमएस का कार्य पूर्ण हो जाने की खबरें आ रही हैं। इस  बहुप्रतीक्षित परियोजना में सबसे बड़ा अड़ंगा भूमि अधिग्रहण को लेकर था, जो अब दूर होता दिख रहा है। नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरिडोर (एनएचआरसीएल) के अधिकारियों द्वारा परियोजना के  लिए जमीनी संकट को शीघ्र ही हल करने का दावा किया जा रहा है।
परियोजना से जुड़े अधिकारियों के अनुसार किसानों को उनकी मांग के मुताबिक मुआवजा दिया जाएगा। नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरिडोर (एनएचआरसीएल) के पालघर परियोजना के प्रबंधक दीपक  रॉय ने बताया कि परियोजना के जॉइंट मेजरमेंट सर्वे का काम वसई में पूरा हो चुका है, जबकि पालघर और डहाणू के ज्यादातरगांवों में यह काम पूरा हो गया है। दीपक रॉय ने कहा कि  परियोजना से प्रभावित लोगों की सहमति से भूमिअधिग्रहण का कार्य तेजी से किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि देश की पहली नेशनल हाई स्पीड ट्रेन के 508 किलोमीटर लंबे गलियारे का क्षेत्र  करीब 110किलोमीटर महाराष्ट्र के पालघर जिले से होकर गुजरता है। इस परियोजना के लिए 73 गांवों की 300 हेक्टेयर जमीन की जरूरत पड़ेगी। नेशनल हाई स्पीड रेल की ओर से पालघर के  ग्रामीण इलाकों में अत्याधुनिक एंबुलेंस सेवा का भी संचालन किया जा रहा है, जिसके बेहतर परिणाम दिख रहे हैं।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget